© Getty Images
© Getty Images

केपटाउन टेस्ट में टीम इंडिया के खिलाफ द.अफ्रीकी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा नई गेंद से विरोधी टीम पर हमला करना चाहते हैं। द.अफ्रीकी मीडिया को इंटरव्यू देते हुए दुनिया के नंबर 1 गेंदबाज रबाडा ने कहा कि वो नई गेंद से गेंदबाजी करने के लिए बेकरार हैं और अगर उन्हें दूसरे टेस्ट में मौका मिला तो इसका पूरा फायदा उठाएंगे। रबाडा ने बयान दिया, “मैं वहां गेंदबाजी करता हूं जहां मेरी टीम चाहती है। मुझे ओपनिंग गेंदबाी करना पसंद है लेकिन ये मुश्किल नजर आ रहा है क्योंकि हमारी टीम में दो और अच्छे तेज गेंदबाज हैं। मेरी टीम जो मुझसे चाहेगी मैं वही करूंगा। मुझे अगर ओपनिंग बॉलिंग की जिम्मेदारी दी गई तो मैं ज्यादा से ज्यादा विकेट लेने की कोशिश करूंगा।”

कागिसो रबाडा ने केप टाउन में खेले पहले टेस्ट में 5 विकेट झटके थे। पहली पारी में रबाडा की तेज और उछाल भरी गेंदों ने 3 भारतीय बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाई थी वहीं दूसरी पारी में उन्हें दो विकेट हासिल हुए थे। केपटाउन टेस्ट में शानदार प्रदर्शन के बाद कागिसो रबाडा आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में दुनिया के नंबर 1 गेंदबाज बन गए थे। रबाडा ने इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन को पछाड़ा था।

द.अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में आर अश्विन करेंगे तेज गेंदबाजी?
द.अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में आर अश्विन करेंगे तेज गेंदबाजी?

सेंचुरियन में रबाडा का प्रदर्शन- भारत और द.अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट सेंचुरियन में 13 जनवरी से खेला जाना है। सेंचुरियन की पिच काफी तेज है, जिसका फायदा कागिसो रबाडा उठा सकते हैं। सेंचुरियन के मैदान पर रबाडा का रिकॉर्ड भी शानदार है। रबाडा ने सेंचुरियन में दो टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 18 विकेट लिए हैं। साल 2016 में रबाडा ने इंग्लैंड के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट में कुल 13 विकेट झटके थे, वहीं अगस्त 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ रबाडा ने 5 विकेट झटके। ऐसे में साफ है टीम इंडिया के बल्लेबाजों को दूसरे टेस्ट में सबसे ज्यादा खतरा रबाडा से ही होगा।