kane williamson and shaheen shah afridi pull out their name form the hundred league
शाहीन आफरीदी और केन विलियमसन @ICCTwitter

इंग्लैंड की नई क्रिकेट लीग ‘द हंड्रेड’ (The Hundred) से नामचीन खिलाड़ियों के नाम वापस लेने का सिलसिला जारी है. अब न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) और पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन शाह आफरीदी (Shaheen Shah Afridi) ने भी इस लीग से अपना नाम वापस ले लिया है. विलियमसन इन दिनों अपनी कोहनी की चोट से जूझ रहे हैं. वह इसका इलाज कराने के मकसद से उन्होंने इस लीग से अपना नाम वापस लिया, जबकि अफरीदी को पाकिस्तान के साथ वेस्टइंडीज दौरे पर जाना है. इसलिए उन्होंने अपना नाम वापस लिया है.

विलियमसन ने बर्मिंघम फीनिक्स के साथ 1,10,000 डॉलर का (करीब 82 लाख रुपये) करार किया था. अपनी इस चोट के कारण वह पिछले काफी समय से जूझ रहे हैं. उन्होंने आईपीएल के शुरुआती मैच भी इसी वजह से नहीं खेले थे. यहां तक कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप से पहले इंग्लैंड के खिलाफ खेला गए दूसरे टेस्ट का भी वह हिस्सा नहीं थे. हालांकि WTC फाइनल में उन्होंने अपने शानदार खेल और जुझारूपन्न के दम पर अपनी टीम को टेस्ट चैंपियनशिप का पहला खिताब दिलाने में सफलता हासिल की.

ईएसपीएन क्रिकइन्फो ने कहा, ‘न्यूजीलैंड के कप्तान विलियमसन पिछले छह महीने से इसी चोट से जूझ रहे हैं. वह विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के बाद से ब्रिटेन में हैं और मेंटर के तौर पर बर्मिंघम फीनिक्स टीम के साथ रह सकते हैं.’ शाहीन आफरीदी भी बर्मिंघम फीनिक्स का हिस्सा हैं. लेकिन जिस दौरान 21 जुलाई से 21 अगस्त तक द हंड्रेड का आयोजन होना है. इसी दौरान पाकिस्तान को वेस्टइंडीज का दौरा करना है.

इससे पहले डेविड वॉर्नर, मार्कस स्टोइनिस जैसे खिलाड़ी पहले ही इस लीग से अपना नाम वापस ले चुके हैं. इस बीच साउथ अफ्रीकी तेज गेंदबाज लुंगी गिडी के इस लीग में खेलने की उम्मीद है.