बांग्लादेश के खिलाफ हैमिल्टन टेस्ट मे मिली बड़ी जीत का श्रेय कप्तान केन विलियमसन ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन को दिया। बल्लेबाजों के लिए मददगार सेडन पार्क की पिच पर कीवी गेंदबाजों ने चौथे दिन अच्छा धैर्य दिखाया और बांग्लादेश टीम को 429 पर ऑलआउट कर एक पारी और 52 रनों से मैच जीता।

ये भी पढ़ें: ‘दूसरे छोर पर धोनी के होने की वजह से अपना स्वभाविक खेल दिखा पाया’

गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कप्तान विलियमसन ने कहा, “दूसरी नई गेंद के साथ विकेट निकालना, हमें उसके लिए काफी धैर्य रखना था और ये अच्छा रहा कि हम वहां से खेल पर कब्जा कर सके। हमने शानदार प्रदर्शन किया। पहली पारी में, जिस तरह से हमने खुद को सतह के अनुकूल ढाला, जबकि हमें लग रहा था कि यहां हमारे सीमर्स को ज्यादा मदद मिलेगी। ऐसी सतह, जो कि स्पिनर्स और सीमर्स दोनों के लिए कुछ खास मददगार नहीं थी, उसके अनुसार खुद को ढालना बेहद मुश्किल था।”

बांग्लादेश की दूसरी पारी में जब सौम्य सरकार (149) और महमूदुल्लाह (146) शतक बनाकर क्रीज पर टिके हुए थे, तो न्यूजीलैंड टीम के हाथ से मैच निकलता दिख रहा था लेकिन ट्रेंट बोल्ट ने इस साझेदारी को तोड़कर कीवी टीम को जीत दिलाई।

ये भी पढ़ें: महमूदुल्‍लाह, सौम्य सरकार पर भारी पड़े ‘बोल्‍ट’, पारी के अंतर से जीता न्‍यूजीलैंड

विलियमसन ने बांग्लादेशी बल्लेबाजों की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि बांग्लादेश टीम (श्रीलंका के मुकाबले) ज्यादा आक्रामक टीम है। जिसका मतलब ये है कि वो तेजी से रन बना रहे थे। बतौर गेंदबाजी यूनिट हमें लगा कि यहां मौका बन सकता है। उनकी तरफ से कुछ शानदार बल्लेबाजी हुई। अगर हम श्रीलंका के खिलाफ मैच को पलट कर देखें तो वहां पर भी शानदार बल्लेबाजी देखने को मिली थी, जब हमें मौके नहीं मिल रहे थे।”

पहला टेस्ट जीतकर न्यूजीलैंड टीम तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे हो गई है। दूसरा टेस्ट 8 मार्च को वेलिंगटन में खेला जाना है।