कपिल देव © CricketCountry
कपिल देव © CricketCountry

टीम इंडिया विश्व क्रिकेट की सबसे व्यस्त टीमों में से एक है। विदेशी दौरों और दूसरे टूर्नामेंट्स के लिए भारतीय टीम को लगातार सफर करना पड़ता है। टीम की इस परेशानी को हल करने के लिए पूर्व कप्तान कपिल देव ने एक रास्ता निकाला है। 1983 विश्व कप विजेता कप्तान का कहना है कि बीसीसीआई को अपना खुद का विमान खरीद लेना चाहिए। टाइम्स ऑफ इंडिया ने कपिल देव के हवाले से लिखा, “अब जबकि बीसीसीआई अच्छा पैसा कमा रहा है, उनके पास खुद का विमान होना चाहिए। इससे काफी समय बचेगा और खिलाड़ियों की जिंदगी थोड़ी आसान हो जाएगी। बोर्ड इसका खर्च उठा सकता है, उन्हें पांच साल पहले ही ये कर लेना चाहिए था।”

बीसीसीआई दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड है, ऐसे में एक विमान जो कि करीबन 100 करोड़ का होगा, उसका खर्च बोर्ड बहुत आसानी से उठा सकता है। कपिल देव ने तो यहां तक कह दिया कि खिलाड़ियों को भी अपने निजी विमान खरीद लेने चाहिए। उन्होंने कहा, “मुझे देखकर खुशी होगी अगर खिलाड़ी भी अपने लिए विमान खरीदेंगे। अमेरिका में टॉप के गोल्फ खिलाड़ियों के पास खुद के विमान होते हैं। मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि हमारे खिलाड़ी ऐसा क्यों नहीं कर सकते। इससे उन्हें मैचों के बीच में काफी आराम मिलेगा। मुझे पूरा यकीन है कि बीसीसीआई पार्किंग का खर्च भी उठा सकता है।” [ये भी पढ़ें: कोहली के शॉट पर घायल होने से बचा था ये अंपायर, कहा फिर भी नहीं पहनूंगा हेलमेट]

कपिल ने बीसीसीआई के भारतीय खिलाड़ियों को विदेशी लीग में ना खेलने देने के नियम पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा, “मैं मानता हूं कि अगर कोई खिलाड़ी बीसीसीआई के साथ अनुबंध में है तो उसे बोर्ड की बात माननी होगा लेकिन बोर्ड को अनुबंधित खिलाड़ी को पूरी दुनिया में खेलने की इजाजत देनी चाहिए।” कपिल देव ने कहा कि खिलाड़ियों को दूसरे टी20 लीग में खेलने के लिए तैयार करने और उन्हें सही जानकारी देने के लिए प्लेयर्स एसोसिएशन बनना जरूरी है। कोई भी किसी खिलाड़ी का मालिक नहीं बन सकता।