Kepler Wessels believes Virat Kohli should play at number 4 in world cup
Virat Kohli @ AFP

विश्व कप में भारत का नंबर चार बल्लेबाज कौन होगा? पिछले कुछ समय से चल रही इस चर्चा में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान कैपलर वैसल्स भी शामिल हो गये हैं और उनका मानना है कि कप्तान विराट कोहली को इस महत्वपूर्ण स्थान पर बल्लेबाजी के लिये उतरना चाहिए।

वैसल्स ने इसके साथ ही माना कि दक्षिण अफ्रीका ‘चोकर्स’ के तमगे का हकदार है और जब तक वह आईसीसी का कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत जाता तब तक उस पर यह तमगा लगा रहेगा।

पढ़ें:- World Cup Countdown: अपने आखिरी विश्‍व कप में क्रिस गेल बनेंगे छक्‍के लगाने के बादशाह

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि विराट कोहली नंबर चार स्थान के लिये सबसे उपयुक्त बल्लेबाज रहेंगे। वह इस स्थान पर उतरकर पारी को सवार सकते हैं और जरूरत पड़ने पर तेजी से रन भी बना सकते हैं। उनके लिये नंबर चार आदर्श स्थान हो सकता है।’’

कोहली हालांकि नंबर चार पर खास सफल नहीं रहे हैं। अपने करियर में वह अब तक केवल 38 मैचों में ही इस स्थान पर उतरे हैं जबकि नंबर तीन उनका पसंदीदा स्थान है जिस पर वह 166 मैचों में बल्लेबाजी के लिये उतरे हैं।

वैसल्स वेब टीवी चैनल ‘पावर स्पोर्ट्स’ के विश्व कप से जुड़े कार्यक्रमों की घोषणा के अवसर पर ऑस्ट्रेलिया से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये संवाददाताओं से बात कर रहे थे।
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज एंडी बिकेल ने हालांकि माना कि भारत के पास नंबर चार के लिये कई विकल्प हैं लेकिन उन्हें लगता है कि केएल राहुल इस स्थान के लिये सबसे उपयुक्त खिलाड़ी हो सकते हैं।

पढ़ें:- World Cup Countdown: 5 बार की विश्‍व चैंपियन ऑस्‍ट्रेलिया का इंग्‍लैंड में ये वर्ल्‍ड रिकॉर्ड होगा दांव पर

बिकेल ने कहा, ‘‘राहुल अभी अच्छी फॉर्म में है और नंबर चार की जिम्मेदारी अच्छी तरह से निभा सकते हैं। टीम में महेंद्र सिंह धोनी है जो एक से छह नंबर तक किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। विजय शंकर युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज है। कुल मिलाकर भारत के पास नंबर चार के कई विकल्प है। यह टीम प्रबंधन के लिये अच्छा सरदर्द है।’’

वैसल्स ने भारत को खिताब का प्रबल दावेदार करार दिया। उन्होंने उसके अलावा इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को भी सेमीफाइनल में पहुंचने का हकदार बताया। ‘‘भारत के जीत की बहुत अच्छी संभावना है। उसकी टीम वनडे में बहुत अच्छी है। इंग्लैंड भी खतरनाक टीम हो सकती है लेकिन उसके खिलाड़ियों को घरेलू दर्शकों के सामने खेलना है और उन्हें अपनी भावनाओं पर काबू रखना होगा।’’

पढ़ें:- विश्व कप में 6 कप्तानों ने संभाली भारत की कमान, कपिल-धोनी ने बनाया चैंपियन

वैसल्स ने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया तीसरी टीम है जिसकी अच्छी संभावना है। दो महीने पहले तक ऑस्ट्रेलिया की कोई संभावना नहीं थी लेकिन अब उनकी सबसे मजबूत टीम खेल रही है। इन तीनों के अलावा सेमीफाइनल की चौथी टीम दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान में से कोई एक हो सकती है।’’

ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका दोनों की तरफ से खेलने वाले वैसल्स ने कहा कि दक्षिण अफ्रीकी टीम जब तक बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत जाती तब तक चोकर्स का तमगा उसका पीछा नहीं छोड़ेगा।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘हां जब तक वे आईसीसी का कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत जाते हैं तब तक उन पर यह ‘तमगा’ लगा रहेगा। वे इस तमगे के हकदार हैं। इसका सबसे अच्छा उदाहरण 1999 है जब वह टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ टीम थी। वेस्टइंडीज में ऐसा हुआ। वर्तमान टीम के पास डुप्लेसिस के रूप में एक अच्छा कप्तान है जो अपने खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करवाने में सक्षम है।’’

पढ़ें:- विश्व कप के लिए फिट हुए केदार जाधव, टीम के साथ इंग्लैंड जाएंगे

वैसल्स ने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका में टीम से काफी अपेक्षाएं हैं लेकिन इस बार विश्व भर में उनसे उतनी अपेक्षाएं नहीं की जा रही हैं। उन्हें खिताब का प्रबल दावेदार नहीं माना जा रहा हैं। वे अंडरडॉग के रूप में शुरुआत करेंगे लेकिन उनकी टीम में कुछ अच्छे क्रिकेटर हैं और टीम संतुलित है।’’

उन्होंने हालांकि कहा कि टीम को एबी डीविलियर्स की कमी खलेगी जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। वैसल्स ने कहा, ‘‘एबी किसी भी टीम के लिये अहम साबित हो सकता है और मुझे लगता है कि उसका टीम में नहीं होना दक्षिण अफ्रीका के लिये बड़ा झटका है। उसकी अनुपस्थिति में हाशिम अमला को अहम जिम्मेदारी निभानी होगी। ’’