केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) को इंग्‍लैंड क्रिकेट के इतिहास में स्‍टार बल्‍लेबाज के रूप में जाना जाता रहेगा. हालांकि इसके बावजूद भी करियर के दौरान साथी खिलाड़ी और बोर्ड के साथ उनके विवाद भी जगजाहिर रहे हैं. बीते दिनों पूर्व कप्‍तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा था कि टीम में साथी खिलाड़ी पीटरसन से जलते थे और उन्‍हें बली का बकरा बना दिया गया. इस मामले में अब पीटरसन ने अपनी चुप्‍पी तोड़ दी है.

केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्‍यम से दोबारा उठे इस विवाद पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “अविश्‍वसनीय, मैं अब इस पूरे विवाद को पीछे छोड़ चुका हूं. मुझे विश्‍वास नहीं होता कि यह विषय अब भी हैडलाइन में आ जाता है. मैं अब इन विषयों पर दोबारा बात करना नहीं चाहता हूं. बेहतर होगा कि लोग मेरे करियर से जुड़े अच्‍छे पलों के बारे में चर्चा करें. दुनिया में मौजूद हालात काफी गंभीर हैं, जिन्‍हें इस वक्‍त सकारात्‍मक सोच की जरूरत है.”

माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा ही में कहा था कि आईपीएल 2009 के दौरान जब केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) को 7.5 करोड़ रुपये का कांट्रैक्‍ट मिला तो टीम में ही साथी खिलाड़ी ग्रीम स्‍वान, जेम्‍स एंडरसन, स्‍टुअर्ट ब्रॉड उनसे जलने लगे थे.

बता दें कि मूल रूप से साउथ अफ्रीका के रहने वाले इंग्लिश खिलाड़ी केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) पर यह आरोप लगे थे कि उन्‍होंने टीम मीटिंग से जुड़ी कुछ जानकारी साउथ अफ्रीका के खिलाड़ियों के साथ शेयर की थी. इस मामले ने काफी तूल पकड़ा, जिसके बाद ईसीबी ने उनपर कार्रवाई भी की.