भारतीय टीम के पूर्व बल्‍लेबाज संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) को लगता है कि लगातार शिकस्‍त झेल रही किंग्‍स इलेवन पंजाब की टीम के कप्‍तान केएल राहुल (KL Rahul) को टीम में अन्‍य क्रिकेटर्स के प्रदर्शन को लेकर ज्‍यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है. उन्‍हें अपने आप को पूरी तरह फोकस रखते हुए ही बल्‍लेबाजी करनी चाहिए.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान संजय मांजरेकर ने कहा, “पंजाब को प्‍वाइंट्स टेबल में उपर ले जाने के लिए अन्‍य क्रिकेटर्स के प्रदर्शन के बारे में केएल राहुल को ज्‍यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है. बहुत से दिलचस्‍प प्‍वाइंट में से एक मेरे लिए राहुल का कप्‍तानी करना है और इसका उनकी बल्‍लेबाजी पर पड़ने वाला संभावित असर है.”

मांजरेकर ने आगे कहा, “जो पहली चीज है वो यही है कि केएल राहुल एक शानदार खिलाड़ी है. वो आज के समय का 360 डिग्री क्रिकेट खेल सकते हैं. वो अकेले ऐसे खिलाड़ी हैं जो क्‍लासिकल क्रिकेट खेलते हुए नजर आते हैं. वो ‘आउट ऑफ द बुक’ शॉट खेलते हैं और साथ ही क्‍लासी कवर ड्राइव भी लगाते हैं.”

“केएल राहुल के लिए आईपीएल 2018 एक बड़ी उपलब्‍धी की तरह रहा. इसी साल वो टी20 क्रिकेट में एक अविश्‍वसनीय बल्‍लेबाज के रूप में उभर कर सामने आए.“

मांजरेकर ने कहा इससे अगले साल मैंने केएल राहुल में काफी बदलाव देखा. वो उतनी आजादी के साथ बल्‍लेबाजी नहीं कर रहा था जितना उसे करना चाहिए. यह साफ समझा जा सकता था कि एक ऐसा खिलाड़ी जो बहुत अच्‍छे से बल्‍लेबाजी कर सकता था लेकिन इसके लिए तैयार नहीं था. बीते सीजन में उनकी स्‍ट्राइकरेट घटकर 130 के पास आ गई थी. इस साल भी ये 130 के पास ही है.”

“मुझे नहीं लगता कि कप्‍तानी ऐसी चीज है जो उन्‍हें ज्‍यादा नीचे धकेल रही है जितना राहुल स्‍वयं पीछे जा रहे हैं.”