वीरेंद्र सहवाग © Getty Images
वीरेंद्र सहवाग © Getty Images

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने टीम में मौजूद चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल की तारीफ की है और कहा है कि इन दोनों ने रविचंद्रन अश्विनरवींद्र जडेजा की कमी को खलने नहीं दिया जो टीम के लिए अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि युवाओं को अच्छा प्रदर्शन करते देखना अच्छा लगता है। सहवाग के मुताबिक इन दो स्पिन गेंदबाजों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर लोगों को अश्विन और जडेजा को भूलने पर मजबूर कर दिया है। सहवाग ने यह बात तीसरे वनडे से पहले इंडिया टीवी के लोकप्रिय शो ‘क्रिकेट की बात’ में कही।

कुलदीप ने कोलकाता में खेले गए दूसरे वनडे में हैट्रिक ली थी। सहवाग ने कुलदीप की हैट्रिक की तारीफ की, लेकिन साथ ही कहा कि उन्हें अभी अपनी फील्डिंग के अनुसार गेंदबाजी करनी होगी क्योंकि दूसरे वनडे में उन्होंने अपने स्पेल में काफी रन दिए थे। सहवाग ने चहल को लेकर कहा कि उन्हें बेंगलुरू जैसे विकेट पर गेंदबाजी करने का फायदा मिल रहा है। चहल आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर से खेलते हैं जिसके कप्तान विराट कोहली हैं। सहवाग ने कहा, “कोहली, चहल पर बहुत भरोसा करते हैं और यही वजह है कि जब मुश्किल होती है वह चहल को गेंद सौंप देते हैं।” सहवाग के मुताबिक, “यूं तो भारतीय टीम हर तरह से मजबूत नजर आती है, लेकिन मध्यक्रम एक कमजोर कड़ी है।” [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, तीसरा वनडे: इंदौर वनडे में महेंद्र सिंह धोनी पूरी करेंगे 100वीं स्टंपिंग]

उन्होंने कहा कि पहले दो मैचों में मध्यक्रम नहीं चला है ऐसे में कोहली को बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मनीष पांडे और केदार जाधव को मौका मिला है जिसका उन्हें फायदा उठाना चाहिए हालंकि अभी तक दोनों विफल रहे हैं। सहवाग ने कहा कि इस समय भारतीय टीम स्टीव वॉ और रिकी पॉन्टिंग वाली ऑस्ट्रेलिया टीम की तरह शक्तिशाली है जबकि मौजूदा ऑस्ट्रेलिया टीम में वो दमखम नजर नहीं आता। उन्होंने कहा कि भारत यह सीरीज इंडिया 5-0 से जीतेगा।

सहवाग ने आगे कहा, “ऑस्ट्रेलिया के पास कुल्टर नाइल के अलावा और कोई ऐसा गेंदबाज नहीं है जो विकेट ले सके। बल्लेबाजी में भी हमें स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और ग्लैन मैक्सवेल को जल्दी से जल्दी आउट करना होगा, खासकर स्मिथ को क्योंकि वह भारत के खिलाफ हमेशा रन बनाते हैं।” सोशल मीडिया पर अपने चुटकुले कमेंट्स के लिए मशहूर सहवाग ने कोहली की तारीफ करते हुए कहा, “होठों पर हंसी, दिल में गम है, ऑस्ट्रेलियावाले कोहली से तंग हैं।” [ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया]

उन्होंने कहा कि कोहली बतौर कप्तान दूसरी टीम के कप्तान को परेशान करते हैं। इस सीरीज में वह मुंह से नहीं बल्ले से बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोहली मैच को कंट्रोल करना जानते हैं इसलिए भारत को मैच जितवा रहे हैं। धोनी भी मैच को कंट्रोल करना जानते थे। इंदौर के होल्कर स्टेडियम में दिसम्बर, 2011 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ दोहरा शतक (149 गेंदों पर 219 रन) लगाने वाले सहवाग ने कहा कि ये मैदान छोटा है और पिच भी बल्लेबाजी के लायक है इसलिए रविवार को तीसरे मैच में बड़ा स्कोर देखने को मिल सकता है।