इमरान ताहिर और हाशिम आमला लाहौर में मैच से पहले अभ्यास करते हुए © AFP
इमरान ताहिर और हाशिम आमला लाहौर में मैच से पहले अभ्यास करते हुए © AFP

लाहौर में पैदा हुए साउथ अफ्रीकन गेंदबाज इमरान ताहिर पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी से खुश हैं। पाकिस्तान के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज खेलने वाली वर्ल्ड इलेवन टीम में शामिल ताहिर अपने साथी खिलाड़ियों को पाकिस्तान में खेलने के बारे में सकारात्मक बातें बताकर उनका डर कम कर रहे हैं। 2009 में श्रीलंका टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पहली बार आईसीसी द्वारा आयोजित किसी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज की मेजबानी कर रहा है। ताहिर जो कि लाहौर से अच्छी तरह वाकिफ हैं बाकी खिलाड़ियों से इस शहर की खूब तारीफ कर रहे हैं।

ताहिर ने पाकपैशन वेबसाइट से बातचीत में कहा, “मैने अपने साथी खिलाड़ियों को सकारात्मक बातें बताई हैं क्योंकि मैं हर साल यहां अपने परिवार से मिलने आता हूं। मैने उनके हर सवाल का जवाब दिया और मुझे खुशी है कि उन्होंने मेरा भरोसा किया और यहां आए। हम यहां एक सकारात्मक सोच के साथ आए हैं और इसी के साथ वापस जाएंगे। साउथ अफ्रीका की राष्ट्रीय टीम के लिए खेलने वाले ताहिर पाकिस्तान की अंडर-19 टीम और पाक ए टीम के क्रिकेट खेल चुके हैं। साल 2006 में ताहिर साउथ अफ्रीका चले गए और फिर प्रोटियाज टीम का हिस्सा बने। [ये भी पढ़ें: हमारी सुरक्षा व्यवस्था राष्ट्रपति जैसी थी: फाफ डु प्लेसी]

आज फाफ डु प्लसी की कप्तानी में वर्ल्ड इलेवन टीम पाकिस्तान के खिलाफ पहला टी20 मैच खेलेगी। ताहिर ने आगे कहा, “मैं अपने करियर में जिस मुकाम पर हूं, उससे खुश हूं। जब मुझे पता चला किा तीन मैच यहां खेले जा सकते हैं तो मैं शायद वो पहला शख्स था जो जाने के लिए तैयार था।”