Lahore court order to register fir against Pakistan Captain Babar Azam
Babar Azam @ Twitter/ ICC

लाहौर की एक अदालत ने उत्पीड़न से जुड़े एक मामले में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज (FIR) करने के आदेश दिये हैं।

अहमदाबाद में चला रोहित शर्मा का जादू, मुश्किल वक्‍त पर संभाती कप्‍तानी, टीम को दिलाई जीत

न्यायधीश हामिद हुसैन ने एक महिला हमिजा मुख्तार की याचिका पर गुरुवार को लाहौर में यह आदेश दिया। इस महिला ने दावा किया है कि पाकिस्तानी कप्तान के खिलाफ मामला दायर करने के बाद उन्हें वाट्सएप पर धमकी भरे संदेश मिल रहे हैं।

सुनवाई के दौरान जांच एजेंसी के अधिकारियों ने अदालत को बताया कि हमिजा ने साइबर अपराध से जुड़े विभाग में शिकायत दर्ज करायी थी और जांच करने पर पता चला कि जिन नंबरों से धमकी भरे संदेश भेजे गये उनमें से एक नंबर बाबर आजम का है।

शार्दुल ठाकुर ने अंतिम तीन गेंदों पर कराई वापसी, हार्दिक पांड्या बोले-मैंने दी थी ये सलाह

हमिजा ने आरोप लगाया कि उन्हें विभिन्न नंबरों से वाट्सएप पर लगातार धमकी भरे संदेश मिल रहे हैं तथा एक अज्ञात व्यक्ति उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है कि उसके पास उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें और वीडियो हैं। वह इन्हें सोशल मीडिया पर अपलोड करने की धमकी दे रहा है।हमिजा ने इससे पहले बाबर के खिलाफ शारीरिक उत्पीड़न और यौन उत्पीड़न के आरोप भी लगाये थे।