रणजी ट्राफी राउंड 2 का चौथा दिन शुरू।
रणजी ट्राफी राउंड 2 का चौथा दिन शुरू।

नमस्कार, आदाब! क्रिकेटकंट्री की लाइव कवरेज में आपका स्वागत है। आज रणजी ट्रॉफी 2016-17 का राउंड 2 का चौथा दिन है। कल पंजाब और मध्य प्रदेश के मैच में एक बार फिर युवराज सिंह ने अच्छा प्रदर्शन किया।  युवराज ने 70 रनों की शानदार पारी खेली। राउंड 2 में कुल 13 मैच हो रहे हैं जिसमें 26 टीमें हिस्सा ले रही हैं। रणजी  ट्रॉफी का राउंड 1 पहले से ही समाप्त हो चुका है जिसमें अधिकतर मैच ड्रॉ में समाप्त हुए और कई बहुत करीबी मैच भी हुए। बड़ौदा, गुजरात, सौराष्ट्र, राजस्थान, उड़ीसा, विदर्भ, हरियाणा, सर्विसेज, केरल जम्मू एवं कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और आंध्र प्रदेश के मैच ड्रॉ पर समाप्त हुए।

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई  224/5, मैच ड्रॉ, पहली पारी में बढ़त से मुंबई को तीन और बड़ौदा को एक अंक मिला।

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 224/5, जीतने के लिए 142 रनों की जरूरत

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 215/5, जीतने के लिए 151 रनों  की जरूरत

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 210/5, जीतने के लिए 156 रनों कीजरूरत

यूपी बनाम बंगाल: यूपी 70/0, जीतने के लिए 261 की जरूरत

आन्ध्र बनाम छत्तीसगढ़: आन्ध्र 272/8,  77 रनों की बढ़त

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 180/5, जीतने के लिए 186 रनों की जरूरत

यूपी बनाम बंगाल: यूपी 11/0, जीतने के लिए 320 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: महाराष्ट्र 18/0, 63 रनों की बढ़त

झारखंड बनाम कर्नाटका: कर्नाटका 137/3, 340 रनों की बढ़त

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 163/10, 220 रनों से हार

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हरियाणा 85/2, 8 विकेट से जीत

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 256/7, 61 रन की बढ़त, चाय ब्रेक

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 166/5, जीतने के लिए 200 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 179/9, जीतने के लिए 128 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 272/5, 328 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 226, 175 रनों से हारा रेलवे

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: सोराष्ट्र 179, 32 रनों से हार

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 587/8, 48 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 103/3, 306 रन की बढ़त

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 140/9, जीतने के लिए 243 रनों की जरूरत

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हरियाणा 85/2, 8 विकेट से जीत

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 240/6, 45 रन की बढ़त, 

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 145/4, जीतने के लिए 221 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 152/6, जीतने के लिए 155 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 208/5, 264 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 204/5, जीतने के लिए 197 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: सोराष्ट्र 177/9, जीतने के लिए 35 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 556/6, 85 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 67/2, 270 रन पीछे 

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 122/7, जीतने के लिए 261 रनों की जरूरत

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हरियाणा 71/1, 14 रन की बढ़त

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 231/6, 36 रन की बढ़त, 

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 137/4, जीतने के लिए 229 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 134/6, जीतने के लिए 173 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 128/4, 240 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 193/3, जीतने के लिए 208 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 171/6, जीतने के लिए 41 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 550/6, 85 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 49/2, 252 रन पीछे

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 86/5, जीतने के लिए 297 रनों की जरूरत

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हरियाणा 0/0, 85 रन की बढ़त

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 201/6, 11 रन की बढ़त,

मुंबई बनाम बड़ौदा: मुंबई 94/2, जीतने के लिए 272 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 108/4, जीतने के लिए 205 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 128/4, 184 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 175/3, जीतने के लिए 226 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 147/5, जीतने के लिए 65 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 493/6, 142 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 20/0, 223 रन पीछे

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 65/4,  जीतने के लिए 318 रनों की जरूरत, लंच ब्रेक

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हैदराबाद 214/10,  84 रन की बढ़त

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 198/6,  8 रन की बढ़त, लंच ब्रेक 

मुंबई बनाम बड़ौदा:  मुंबई 82/2,  जीतने के लिए 282 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 105/4, जीतने के लिए 202 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 126/4, 182 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 174/3, जीतने के लिए 227 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 147/5, जीतने के लिए 65 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 487/6, 148 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 16/0, 219 रन पीछे

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 58/4,  जीतने के लिए 325 रनों की जरूरत

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हैदराबाद 204/9,  64 रन की बढ़त 

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 190/4,  5 रन की बढ़त

मुंबई बनाम बड़ौदा:  मुंबई 58/0,  जीतने के लिए 308 रनो की जरूरत

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 98/4, जीतने के लिए 215 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 104/0, 160 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 145/3, जीतने के लिए 256 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 132/5, जीतने के लिए 80 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली 442/6, 193 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: कर्नाटका 4/0, 207 रन पीछे

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: सर्विसेस 13/1,  जीतने के लिए 364 रनों की जरूरत

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हैदराबाद 149/6,  9 रन की बढ़त 

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 163/4,  32 पीछे

मुंबई बनाम बड़ौदा: बड़ौदा  370/5,  352 रनो की बढ़त

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 46/1, जीतने के लिए 261 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 63/0, 119 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 123/1, जीतने के लिए 278 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 100/5, जीतने के लिए 112 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली391/5, 244 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: झारखंड 325/6, 252 रन पीछे

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: त्रिपुरा 340/3 (पारी घोषित),  382 रनों की बढ़त

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हैदराबाद 116/6,  24 रन पीछे

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 151/4,  44 पीछे

मुंबई बनाम बड़ौदा: बड़ौदा  321/5,  303 रनो की बढ़त

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 28/1, जीतने के लिए 279 रनों की जरूरत

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 30/0, 86 रन की बढत

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 108/1, जीतने के लिए 293 रनों की जरूरत

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: ओडिशा 97/5, जीतने के लिए 15 रनों की जरूरत

दिल्ली बनाम महाराष्ट्र: दिल्ली380/5, 255 रन पीछे

झारखंड बनाम कर्नाटक: झारखंड 310/6, 267 रन पीछे

दूसरे दिन का स्कोर कुछ इस प्रकार रहा

त्रिपुरा बनाम सर्विसेस: त्रिपुरा 280/1, 322 रनों की बढ़त (दिन का खेल खत्म)

हैदराबाद बनाम हरियाणा: हैदराबाद 102/5, 38 रनों से पीछे (दिन का खेल खत्म)

आंध्र बनाम छत्तीसगढ़: आंध्र 122/4, 73 रनों से पीछे (दिन का खेल खत्म)

मुंबई बनाम बड़ौदा: बड़ौदा 321/5, 303 रनों से की बढ़त (दिन का खेल खत्म)

मध्य प्रदेश बनाम पंजाब: एमपी 21/0, 286 रनों की बढ़त (दिन का खेल खत्म)

उत्तर प्रदेश बनाम बंगाल: बंगाल 30/0, 86 रनों की बढ़त (दिन का खेल खत्म)

रेलवे बनाम तमिलनाडु: रेलवे 108/0, जीत के लिए 293 रनों की जरूरत (दिन का खेल खत्म)

महाराष्ट्र बनाम दिल्ली: दिल्ली 376/5, 259 रनों से पीछे (दिन का खेल खत्म)

ओडिशा बनाम सौराष्ट्र: सैराष्ट्र 93/5, जीत के लिए 119 रनों की जरूरत (दिन का खेल खत्म)

झारखंड बनाम कर्नाटक: झारखंड 309/6, 268 रनों से पीछे (दिन का खेल खत्म)

तीसरे दिन हरियाणा और हैदराबाद के बीच के मैच में हरियाणा ने बढ़त बनाई। जमशेदपुर में हो रहे स्टेडियम में हैदराबाद के कप्तान एस बद्रीनाथ ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। लेकिन हैदराबाद की टीम बड़ा स्कोर नहीं बना सकी। बी संदीप और सुमंथ कोला की पारी के बदौलत हैदराबाद का स्कोर 191 रन तक पहुंच पाया। हरियाणा के लेग स्पिनर यजुर्वेंद्र चहल ने 44 रन देकर 4 विकेट लिए।

वहीं राजस्थान और असाम के बीच हुए मैच में राजस्थान एक पारी से जीत गई। राजस्थान के मनिपाल लोमरोर मैन ऑफ द मैच रहे, जिन्होंने पहली पारी में89 रन बनाए जिसमें 11 बॉउंड्री भी शामिल थी। मैच शुरू होने पर राजस्थान ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था और लोमरोर की पारी की मदद से 272 का स्कोर बनाया। वहीं राजस्थान टीम के गेंदबाजों का प्रदर्शन भी कमाल का रहा, उन्होंने असाम की पारी को 195 रन पर समेट दिया। असाम की तरफ से केवल रिशभ दास ने सबसे ज्यादा 93 रन बनाए वहीं राजस्थान के पंकज सिंह ने 39 रन देकर 5 विकेट चटकाए।

हिमांचल प्रदेश और केरला के मैच में हिमांचल 6 विकेट से जीता। कोलकाता के इडेम गार्डन में हुए इस मैच में टॉस जीतकर हिमांचल के कप्तान रिशी धवन ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पिच गेंदबाजो के पक्ष में रही और मैच में दोनो टीमों ने कम स्कोर बनाया। धवन ने 4 विकेट लेने के साथ 66 रन भी बनाए। साथ ही सचिन बेबी ने 209 गेंदो में 61 रन बनाए, जिसकी मदद से हिमांचल ने 248 का स्कोर खड़ा किया। बड़ोदा की टीम ने मुंबई के खिलाफ मैच में 303 रन की बढ़त बना ली। तीसरे दिन में बड़ौदा की टीम 321 पर 5 विकेट खोकर खेल रही थी और दीपक हुड्डा 66 रनों पर खेल रहे थे।

तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक दिल्ली 376 रन पर 5 विकेट के खोकर खेल रही थी। वानखेड़े में महाराष्ट्र के खिलाफ खेले जा रहे इस मैच में दिल्ली को अभी एक बड़े स्कोर का पीछा करना है। महाराष्ट्र के कप्तान स्पनिल गुगले और अंकित बॉवने की साझेदारी ने श्रीलंका के जयवर्धने और संगाकारा का रिकॉर्ड तोड़ दिया। छत्तीसगढ़ भी आन्ध्र प्रदेश के खिलाफ मैच में आगे चल रही है। आन्ध्र की टीम के अमनदीप खारे ने 270 गेंदो पर 143 शानदगार रन बनाए। साथ ही अभिमन्यु चौहान ने भी उनका साथ देते हुए 394 गेंदो पर 123 रन बनाए। वहीं छत्तीसगढ़ ने शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया। उनकी टीम से दुवारपू सिवा कुमार ने 4 विकेट लेकर आन्ध्र की उम्मीदों को खत्म कर दिया। त्रिपुरा बनाम सर्विसेस मैच में त्रिपुरा ने बढ़त बनाई हुई है, दुसरी पारी में त्रिपुरा की टीम ने 280 रन बनाकर 322 रन की बढ़त हासिल की। अगर ये मैच ड्रॉ भी होता है तो त्रिपुरा की टीम को अधिक अंक मिलेंगे।