माहेला जयवर्धने ने IPL में मुंबई इंडियंस के सफल होने के राज का किया खुलासा
Mahela-Jayawardene-©-AFP

दिग्गज श्रीलंकाई बल्लेबाज माहेला जयवर्धने ने हाल के दिनों में पहले कप्तान और फिर कोच के रूप में काफी सफलता दर्ज की है। उन्होंने हमेशा अपने खिलाड़ियों का समर्थन किया है। जयवर्धने ने कहा है कि टीम में अंहकार रखने वाले खिलाड़ियों का होना तब तक नुकसानदायक नहीं है, जब तक आप एक अच्छे माहौल में उनसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन निकलवा लेते हैं।

COVID-19: ऑलराउंडर हेनरी निकोल्स विश्व कप फाइनल में पहनी जर्सी को करेंगे दान

जयवर्धने से जब पूछा गया कि वह इन ‘अहंकार रखने वाले खिलाड़ियों’ को कैसे संभालते थे तो उन्होंने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ से कहा, ‘यह (अहंकार) होना अच्छा है। इसमें कुछ भी नुकसानदायक नहीं है। यह सिर्फ पहचानने और सुनिश्चित करने की बात है कि वे इसे कैसे आगे बढ़ायें। हर किसी को इस स्तर का होना चाहिए क्योंकि वे अच्छे खिलाड़ी हैं। इसलिये आप कोशिश करते हो कि वे खुद को साबित करें। आपको सिर्फ ऐसा करने की जरूरत होती है।’

श्रीलंका के सबसे सफल कप्तानों में से एक जयवर्धने ने कहा, ‘यह सभी खिलाड़ियों से पेशेवर तरीके से और सम्मानजनक तरीके से बात करना होता है। यही टीम संस्कृति होती है जो आप बनाते हो।’

ICA ने 39 लाख रुपये जुटाए, कपिल देव और सुनील गावस्कर भी इस पहल से जुड़े

उन्होंने कहा, ‘एक बार आप यह संस्कृति बनाते हो तो किसी एक के लिये इससे आगे जाना मुश्किल हो जाता है।’

जयवर्धने ने कहा, ‘बाकी के खिलाड़ी उस व्यक्ति को ग्रुप स्तर से नीचे ले आएंगे। अगर आपने ऐसा अच्छा माहौल नहीं बनाया है तो आपको समस्या हो सकती है क्योंकि इसमें कोई सीमाएं नहीं होती।’

उनके मार्गदर्शन में मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग के पिछले तीन चरण में से दो में खिताब अपने नाम किया। मुंबई इंडियंस आईपीएल की सबसे सफल टीम है जिसने कुल 4 बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया है।