अंडर-19 विश्व विजेता टीम के नायक रहे मनजोत कालरा को रणजी ट्रॉफी में खेलने की मिली अनुमति
Manjot Kalra @afp (file image)

पूर्व अंडर-19 विश्व कप विजेता टीम के नायक रहे खिलाड़ी मंजोत कालरा को डीडीसीए के नए लोकपाल न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त्) दीपक वर्मा ने रविवार को अंतरिम आदेश में रणजी ट्रॉफी में खेलने की अनुमति दी।

विदर्भ रणजी टीम में मेंटर की भूमिका निभा रहे वसीम जाफर को IPL में मिली बड़ी जिम्मेदारी

कालरा पर उम्र की हेराफेरी संबंधित आरोप लगे थे और इस कारण उन पर क्रिकेट के सभी प्रारूपों से एक सत्र का प्रतिबंध लगा था लेकिन डीडीसीए लोकपाल ने इस आदेश को बदल दिया।

दिल्ली के पूर्व कप्तान कीर्ति आजाद के गुट ने कालरा के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी जिसके बाद उन्हें रणजी ट्राफी और अंडर-23 टूर्नामेंट में खेलने से प्रतिबंधित कर दिया गया था। बायें हाथ के इस सलामी बल्लेबाज पर अंडर-16 स्तर से ही उम्र में हेरफेर करने का आरोप लगा था।

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के पूर्व लोकपाल न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) बदर दुरेज अहमद ने अपने कार्यकाल के अंतिम दिन आदेश दिया था कि कालरा को क्लब क्रिकेट सहित खेल के सभी प्रारूपों से खेलने से निलंबित कर दिया जायेगा।

विराट कोहली के खिलाफ सबसे सफल गेंदबाज बने एडम जम्पा

लेकिन न्यायमूर्ति वर्मा ने आदेश दिया कि तथ्यों और परिस्थितियों को देखते हुए 16 दिसंबर 2019 को दिये आदेश को बदला जाता है जिससे मंजोत कालरा को अगला आदेश आने तक रणजी ट्राफी में दिल्ली के लिये और अन्य उम्र ग्रुप वर्गों के सभी मैचों में खेलने की अनुमति दी जायेगी। लोकपाल ने साथ ही डीडीसीए की शीर्ष परिषद को मामले की जांच का निर्देश दिया।