साउथ अफ्रीका की टीम के कोच मार्क बाउचर (Mark Boucher) का मानना है कि पूर्व कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस (Faf du Plessis) का भारत दौरे पर टीम के साथ जुड़ा होना काफी मायने रखता है. भारत और साउथ अफ्रीका (India vs South Africa) के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज 12 मार्च से शुरू हो रही है. क्विंटन डी कॉक (Quinton de Kock) की कप्‍तानी में अफ्रीकी टीम मैदान में उतरेगी.

भारत दौरे के लिए निकलने से पहले मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने कहा, “जब आप भारत जैसे देशों में खेलने के लिए जाते हो तो टीम में युवा और अनुभवी दोनों तरह के खिलाड़ी चाहिए होते हैं. फॉफ डु प्‍लेसिस अच्‍छा प्रदर्शन कर चुका है. पिछली पारी में उसने शतक जड़ा था.”

पढ़ें:- ब्रायन लारा बोले- मैं किसी का अपमान नहीं करना चाहता लेकिन केएल राहुल मेरी नजर में…

“वो भारतीय कंडीशन का बेहद अच्‍छे से समझता है. टीम के साथ उनका रहना काफी प्रभाव डालेगा. ऐसे में हम उनको टीम के साथ जोड़े रखना क्‍यों नहीं चाहेंगे?”

अफ्रीकी टीम के को ने कहा, “भारत के खिलाफ खेलना एक कड़ी चुनौती होने वाली है. यहां काफी अलग कंडीशन होती हैं. हमारे बहुत से खिलाड़ी भारत में अबतक नहीं खेल पाए हैं.”

पढ़ें:- BAN vs ZIM, 1st T20I: सौम्‍स सरकार, लिटन दास के शानदार प्रदर्शन से बांग्‍लादेश ने जीता पहला मुकाबला

युवा जानेमन मलान को भी वनडे टीम में जगह दी गई है. ऐसे में कप्तान क्विंटन डी कॉक के लिए प्‍लेइंग इलेवन चुन पाना बड़ा सिरदर्द होगा. मार्क बाउचर (Mark Boucher) ने कहा, “यह एक ऐसी परेशानी है जिसका होना टीम के लिए अच्‍छा ही है. डु प्‍लेसिस का टीम के साथ होना हमारे साथ काफी अनुभव को जोड़ता है. हम कंडीशन को देखते हुए प्‍लेइंग इलेवन पर अंतिम निर्णय लेंगे. डु प्‍लेसिस का भारत में काफी अच्‍छा रिकॉर्ड है.”