Marnus Labuschagne on bouncers: You don’t like getting hit in the head but it wakes you up
मार्नस लबुशाने (Twitter)

तीसरे एशेज टेस्ट में शानदार अर्धशतकीय पारी खेलकर ऑस्ट्रेलिया को 359 की बढ़त तक पहुंचाने वाले मार्नस लाबुशेन को बाउंसर गेंदो से डर नहीं लगता। स्टंप के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा, “आपको सिर पर गेंद लगना अच्छा नहीं लगता लेकिन इससे आपक जाग जाते हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “ईमानदारी से कहूं तो ये (गेंद) थोड़ा सख्त था। मैं हर बार गेंद को शरीर से दूर रखने की कोशिश कर रहा था लेकिन जगह कम पड़ रही थी। मेरी पीठ उतनी फ्लेक्सिबल नहीं है। आप केवल इस बात का ध्यान रखते हैं कि आपकी नजर गेंद पर हो।”

लीड्स टेस्‍ट: जीत से 203 रन दूर इंग्‍लैंड, ऑस्‍ट्रेलिया को चाहिए 7 विकेट

लीड्स टेस्ट के दौरान लाबुशेन और इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर के बीच अच्छा मुकाबला देखने को मिला। इस बीच आर्चर की गेंद कई बार लाबुशेन के हेलमेट पर लगी। ऑस्ट्रेलिया के टीम डॉक्टर रिचर्ड सॉ दो बार लाबुशेन का कन्कशन टेस्ट करने के लिए मैदान पर आए।

इस पर लाबुशेन ने मजाकिया लहजे में कहा, “मैं अब उनके जवाब देने में माहिर हो गया हूं। ये अब हंसने की वजह बन गया है। वो (डॉक्टर) आते हैं और मैं कहता हूं- मैं ठीक हूं। उन्हें अब पता है, अगर मुझे सच में चोट लगी होगी तो अंतर पता चल जाएगा। ये दो (बाउंसर) हल्के आघात थे।”

80 रन बनाकर रन आउट हुए लाबुशेन की साहसिक बल्लेबाजी का दर्शकों ने खड़े होकर अभिवादन किया।