ऑस्ट्रेलिया (Australia) के शीर्ष क्रम बल्लेबाज मार्नस लाबुशाने (Marnus Labuschagne) का कहना है कि आगामी एशेज सीरीज के दौरान उनका लक्ष्य सिर्फ टेस्ट टीम में अपनी जगह पक्की करना होगा। 27 साल के लाबुशाने ने 2019 में लॉर्डस में शीर्ष क्रम के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के सिर पर चोट लगने के बाद कनकशन सबस्टीट्यूट के रूप में टीम में आए थे।

लाबुशाने तभी से टीम के एक प्रमुख सदस्य हैं और अब टेस्ट क्रिकेट में उनका औसत 60 से अधिक है, जिससे वो ये उपलब्धि हासिल करने वाले केवल चौथे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बने।

8 दिसंबर से गाबा में शुरुआती टेस्ट से पहले शनिवार को अभ्यास सेशन के बाद ब्रिस्बेन में सेन लाबुशाने ने डॉट कॉम डॉट एयू डॉट इन से कहा, “मैं 2019 में मौका पाने और इसके साथ आगे बढ़ने के लिए भाग्यशाली था। मुझे इस पीढ़ी से केन विलियमसन, स्टीव स्मिथ, जो रूट, डेविड वार्नर, विराट कोहली जैसे महान खिलाड़ी देखने को मिले हैं, जो लगातार रन बनाते हैं।”

पिछले सीजन में भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में शानदार 53 की औसत के बावजूद, लाबुशाने को मैच खेलने में थोड़ी समस्या हो रही थी। लेकिन तीसरे नंबर के बल्लेबाज को इस बात की ज्यादा परवाह नहीं है कि इंग्लैंड के गेंदबाज इस कमजोरी का फायदा उठा सकते हैं। उन्होंने कहा, “इंग्लैंड निश्चित रूप से उस तरह की गेंदबाजी करने के लिए कोशिश कर रहा हैं।”