Mayank Agarwal: I am quite disappointed for missing out on a big score
Mayank Agarwal @ Twitter/ICC

भारतीय टीम के सलामी बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल ने सिडनी टेस्‍ट की पहली पारी में 112 गेंद पर 77 रनों की अहम पारी खेली। अपनी पारी में उन्‍होंने सात चौके और दो छक्‍के लगाए। हालांकि वो अपने करियर का पहला शतक लगाने से एक बार फिर चूक गए। इससे पहले मेलबर्न में अपने डेब्‍यू टेस्‍ट मैच के दौरान भी मयंक 76 रन पर आउट हो गए थे।

पहले दिन के खेल के बाद मयंक ने कहा, “बड़ा स्‍कोर नहीं बना पाने से मैं काफी निराश हूं। मैं इस वक्‍त सीखने के दौर से गुजर रहा हूं। अगर इस तरह की गलतियां मैं भविष्‍य में नहीं करूंगा तो मेरे लिए अच्‍छा रहेगा। मैं नाथन लियोन पर हावी होने का प्रयास कर रहा था, लेकिन मैं ऐसा नहीं कर पाया। मैं इस बात से दुखी हूं कि मैं अपना विकेट आसानी से फेंक कर चला गया।”

पढ़े:- पुजारा को ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों की पिटाई करते देखने में मजा आया: मयंक अग्रवाल

मैच के शुरुआती स्‍पेल के दौरान ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों ने काफी शॉर्ट गेंदे फेंकी, जिसे खेलना आसान साबित नहीं हो रहा था। मयंक ने कहा, “मैं साझेदारी बनाने को लेकर चेतेश्‍वर पुजारा से लगातार बातचीत कर रहा था। हाल ही में मैंने इंडिया ए की तरफ से न्‍यूजीलैंड दौरे पर इस तरह की शॉर्ट गेंदों का सामना किया था। उन गेंदबाजों का सामना कर पाना काफी मुश्किल हो रहा था। यहां ऑस्‍ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों की शॉर्ट गेंदें खेलना उससे भी मुश्किल था।”

पढ़ें: सिडनी टेस्‍ट में फिर फ्लॉप हुए राहुल, सोशल मीडिया पर जमकर उड़ा मजाक

मयंक ने कहा, “ऑस्‍ट्रेलियाई तेज गेंदबाज काफी निरंतर हैं। वो आपको ज्‍यादा मौके नहीं देते हैं। हमारा प्‍लान छोटी-छोटी साझेदारी बनाने का था। मैंने पुजारा से इसी बारे में बात की। हमने एक दूसरे से बात करते हुए कहा कि केवल शरीर के पास आने वाली गेंद को ही हम खेलेंगे। अपनी विकेट इतनी आसानी से नहीं देंगे। अगर इस दौरान हम ज्‍यादा रन नहीं बना पाएंगे तो भी चलेगा।”