रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल © Getty Images
रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल © Getty Images

भारत के हाथों तीसरा वनडे और सीरीज हारने के बाद भारत के स्पिनर हरभजन सिंह ने माइकल क्लार्क को ट्वीट कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की सलाह दी थी और कंगारू खिलाड़ियों की प्रतिभा पर भी कई सवाल खड़े किए थे। अब क्लार्क ने हरभजन के उस ट्वीट का जवाब दिया और कहा, ”मैंने अभी ये ट्वीट देखा। मेरे बूढे़ पैर अब एसी रूम में कमेंट्री बॉक्स का लुत्फ उठा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया को सुधार और कड़ी मेहनत करने की जरूरत है।” साफ है क्लार्क ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हरभजन की सलाह को नकार दिया है। ये भी पढ़ें: विराट कोहली से भी आगे निकल गए जो रूट

इससे पहले तीसरे वनडे ऑस्ट्रेलिया की हार के बाद हरभजन ने ट्वीट कर कहा था, ”माइकल क्लार्क, मेरा मानना है कि आपको अपने संन्यास के बारे में दोबारा सोचना चाहिए और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी करनी चाहिए। मुझे लगता कि अब ऑस्ट्रेलिया में बेहतरीन बल्लेबाज पैदा होना बंद हो गए हैं। मौजूदा टीम में कोई प्रतिभा नहीं है।” ऑस्ट्रेलिया का वनडे में खराब प्रदर्शन जारी है और टीम भारत से सीरीज हार चुकी है। इसके अलावा टीम 13 मैचों से विदेश में एक भी मैच नहीं जीती है।

हर किसी को उम्मीद थी कि भारत के लिए वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को हराना आसान नहीं होगा लेकिन टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को शुरुआती तीनों मैचों में हरा दिया और सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त बना ली। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी एकजुट होकर प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं और यही उनकी हार का सबसे बड़ा कारण है। कई क्रिकेट पंडितों का मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम में एक फिनिशर और एक गेंदबाज की जरूरत है और इसी वजह से टीम को हार झेलनी पड़ रही है।