Michael Clarke hits out over ball tampering blame claim of Gerard Whateley
Michael Clarke hit out at Australian sports broadcast journalist Gerald Wheatley

भारतीय क्रिकेट टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर है। यहां टीम को अभी चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 6 दिसंबर से खेलना है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने टीम के आक्रमक होकर खेलने की सलाह दी। यह बयान के बाद विवाद खड़ा हो गया जिसपर उन्होंने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने इन आरोपों को खारिज किया है कि उन्होंने उस संस्कृति को बढावा देने में मदद की जिससे गेंद से छेड़खानी जैसे विवाद पैदा हुए। उन्होंने एक शीर्ष प्रसारक को ‘सुर्खियों के पीछे भागने वाला कायर’ कहा।

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है और बुधवार को क्लार्क ने कहा ,‘‘ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट को इस बारे में सोचना छोड़ देना चाहिए कि लोग उसे पसंद करते हैं या नहीं। उसे सम्मान पाने के बारे में सोचना चाहिए।’’

उन्होंने कहा ,‘‘आक्रामक क्रिकेट खेले। हमें पसंद हो या नहीं, लेकिन यह हमारे खून में है।’’

पूर्व खिलाड़ी साइमन कैटिच ने उन पर आरोप लगाया था कि इसी तरह के रवैये ने टीम को धोखेबाजी तक पहुंचा दिया। मेलबर्न के खेल प्रसारक और लेखक गेरार्ड वाटले ने कहा कि क्लार्क की इस तरह की सोच ने उस संस्कृति को बढावा दिया कि टीम जीतने के लिए धोखेबाजी पर आमादा हो गई।

क्लार्क ने जवाब में कहा ,‘‘गेरार्ड वाटले ने यह कहा कि गेंद से छेड़खानी जैसे मसलों के लिये मैं जिम्मेदार हूं तो वह कुछ और नहीं बल्कि सुर्खियों के पीछे भागने वाले कायर हैं ।’’

भारतीय टीम के लिए ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज को अहम मौका माना जा रहा है। दोनों टीमों के तमाम दिग्गज भारत को सीरीज जीतने का दावेदार मान रहे हैं। सबका मानना है मेहमान टीम कड़ी टक्कर दे सकती है लेकिन भारत के पास पहली बार सीरीज जीतने का मौका है।