माइकल क्लॉर्क © Getty Images
माइकल क्लॉर्क © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया को विश्व कप जिता चुके पूर्व कप्तान माइकल क्लॉर्क का कहना है कि ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ियों को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को साथ वेतन विवाद जल्द से जल्द सुलझा एशेज सीरीज पर ध्यान देना चाहिए। क्लॉर्क ने यहां तक कह दिया कि अगर ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट एसोसिएशन इस विवाद का प्रभाव एशेज सीरीज पर पड़ने देगा को ये मूर्खतापूर्ण बात होगी। उन्होंने कहा, “पूर्व खिलाड़ी होने के नाते मैं ये कह रहा हूं कि अगर सोमवार तक समझौता नहीं होता तो इसे मध्यस्ता के जरिए सुलझाया जाए क्योंकि हमें इसे खत्म करना है। मुझे विश्वास है कि ये विवाद मध्यस्ता से ही सुलझ सकता है। अगर एसीए इससे इनकार करती है तो ये सरासर बेवकूफी होगी ”

क्लॉर्क ने आगे कहा, “अगर इंग्लैंड को एशेज में हराना है तो ये ऑस्ट्रेलिया टीम आने वाले समय में एक भी मैच नहीं छोड़ सकती। हमें बांग्लादेश भी जाना होगा, भारत के साथ वनडे सीरीज भी खेलनी होगी और हमें ऑस्ट्रेलिया में इंग्लैंड के खिलाफ अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलनी होगी। मुझे यकीन है कि हम ऐसा करेंगे क्योंकि हमने पहले भी कई बार एक टीम के रूप में शानदार क्रिकेट खेला है।” क्लॉर्क ने ये भी कहा कि खिलाड़ियों को विवाद में ज्यादा नहीं उलझना चाहिए, ये काम बोर्ड और एसीए का है। [ये भी पढ़ें: ‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया नहीं चाहता कि वेतन विवाद जल्दी सुलझे’]

उन्होंने आगे कहा, “अगर खिलाड़ी इसमें शामिल होना चाहते हैं जैसा कि वह सोशल मीडिया पर दिखाई कर रहे हैं तो ऐसे में कप्तान स्टीवन स्मिथ को उनका नेतृत्व करना चाहिए। खिलाड़ी किसी बिजनेस के सीईओ या जनरल मैनेजर नहीं हैं। ये उनकी जिम्मेदारी नहीं है, उन्हें वहीं करना चाहिए जो उन्हें अच्छे से आता है और वो है क्रिकेट खेलना।”