Michael Holding :Society has not got over the dehumanisation of the black race
Michael Holding @afp (file image)

नस्लवाद के खिलाफ सशक्त संदेश देते समय भावुक हुए विंडीज दिग्गज माइकल होल्डिंग का कहना है कि अश्वेत नस्ल को ‘अमानुषिक’बना दिया गया है और उसकी उपलब्धियों को उस इतिहास से मिटा दिया गया जिसे उन लोगों ने लिखा है जिन्होंने यह नुकसान किया है।

अगले साल क्रिकेट कमेंट्री से रिटायर हो रहे होल्डिंग ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच बारिश के कारण रूके पहले टेस्ट के दौरान नस्लवाद पर बातचीत के दौरान यह विचार व्यक्त किए।

इस मैच में दोनों टीमों ने नस्लवाद के खिलाफ अपनी जर्सी पर ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’का लोगो पहना है । अमेरिका में अफ्रीकी अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस की बर्बरता के बाद मौत के बाद से दुनिया भर में नस्लवाद का विरोध हो रहा है ।

‘मेरा मतलब इतिहास पर नजर डालने से है’

होल्डिंग ने स्काइ स्पोटर्स से कहा ,‘जब मैं शिक्षा की बात करता हूं तो मेरा मतलब इतिहास पर नजर डालने से है । लोगों को समझना होगा कि ये चीजें सौ साल पुरानी है । अश्वेत नस्ल का अमानुषिकीकरण कहां से शुरू हुआ । लोग कहेंगे कि यह काफी पुरानी बात है , इसे भूल जाओ । इस तरह की बातों को भूला नहीं जा सकता ।’

उन्होंने कहा कि शिक्षा प्रणाली ने लोगों के दिमाग में अश्वेत नस्ल के खिलाफ नकारात्मक बातें भर दी है और मानवता की प्रगति में उसके योगदान को नकार दिया गया ।

उन्होंने कहा ,‘इतिहास विजेताओं का होता है, पराजितों का नहीं । इतिहास उन लोगों ने लिखा है जिन्होंने नुकसान किया है, उन्होंने नहीं जिनका नुकसान हुआ है ।’