Mickey Arthur: Disappointed because I’ve unfinished business with Pakistan Team
मिकी ऑर्थर © Getty Images

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कोच मिकी आर्थर ने मिसबाह उल हक और वसीम अकरम की वजह से उनका कॉन्ट्रेक्ट आगे ना बढ़ पाने वाले बयान का बचाव किया है। उन्होंने माना कि कोच पद से हटने से वो इसलिए ज्यादा निराश हैं क्योंकि पाक टीम के साथ उनका काफी काम अधूरा रह गया।

ईएसपीएन क्रिकइंफो से बातचीत में दिए बयान में आर्थर ने पाक टीम के कोच पद से हटाए जाने के बारे में खुलकर बात की। दरअसल इंग्लैंड में आयोजित विश्व कप से असफल होकर लौटी टीम की समीक्षा के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एक समिति बनाई थी। जिसमें पूर्व क्रिकेटर मिसबाह और अकरम शामिल थे। इस समिति ने आर्थर का कॉन्ट्रेक्ट आगे ना बढ़ाने का फैसला किया था।

आर्थर ने कहा, “मैं केवल इसलिए निराश हूं कि कुछ लोग ऐसे थे जिन पर मुझे भरोसा था और उन्होंने उसे लौटाया नहीं। और बस यही हुआ कि मिसबाह उस समिति में थे जिसने मेरा कॉन्ट्रेक्ट आगे नहीं बढ़ाया।”

सैलरी विवाद पर मिस्‍बाह उल हक ने पहली बार तोड़ी चुप्‍पी

आर्थर का कॉन्ट्रेक्ट आगे ना बढ़ाने का फैसला लेने के बाद पीसीबी ने मिसबाह को ही टीम का नया कोच नियुक्त किया। जिसके लिए आर्थर ने उन्हें शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, “मिसबाह अच्छा काम करेंगे, मिसबाह अच्छे इंसान हैं और पाकिस्तान क्रिकेट ने अपना फैसला लिया है। मैं निराश था क्योंकि मुझे इस काम से बेहद प्यार था। मैं अपने बयान में शालीन था क्योंकि मैं पाकिस्तान और जिन खिलाड़ियों के साथ मैंने तीन साल तक काम किया, उनसे प्यार करता हूं और मिसबाह, वसीम का सम्मान करता हूं।”

पूर्व कोच ने कहा, “मैं निराश था क्योंकि पाक टीम के साथ मेरा काम अधूरा रह गया और मैं उसे आगे बढ़ाना पसंद करता। लेकिन अब हमें आगे बढ़ना होगा और मैं मिसबाह की अगुवाई में पाक टीम को शुभकामनाएं देता हूं।”