Mitchell Starc, Josh Hazlewood, Pat Cummins and Nathan Lyon deny ‘false’ claim of boycotting David Warner in Test
मिशेल स्टार्क, जोश हेज़लवुड, पैट कमिंस और कप्तान टिम पेन (AFP)

ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष गेंदबाजों ने आज बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद टेस्ट से पूर्व उप कप्तान डेविड वार्नर का बहिष्कार करने के “झूठे” और “भड़काऊ” दावों को खारिज कर दिया है।

वार्नर को पिछले साल केपटाउन में तीसरे टेस्ट के दौरान गेंद को बदलने के लिए सैंडपेपर का इस्तेमाल करने की योजना तैयार करने में मुख्य आरोपी माना गया था। इस योजना को सलामी बल्लेबाज कैमरन बैनक्रॉफ्ट ने मैदान पर लागू किया था और कप्तान स्टीव स्मिथ ने इसे अनदेखा किया था।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज के आखिरी दो मैचों में नहीं खेलेंगे पैट कमिंस

सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने शुक्रवार को बताया कि मिचेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, पैट कमिंस और नाथन लियोन का फैसला था कि अगर वार्नर को टीम से नहीं हटाया जाता है तो वो चारों चौथे टेस्ट से बाहर हो जाएंगे। अखबार ने कई स्रोतों का हवाला देते हुए कहा कि ये “घटना के तुरंत बाद ड्रेसिंग-रूम के अंदर के माहौल को दिखाता है”।

लेकिन रविवार को इन चारों खिलाड़ियों ने इस बयान से इनकार कर दिया। अब जबकि स्मिथ और वार्नर पर लगा एक साल का बैन खत्म हो चुका है, तो गेंदबाजों ने कहा कि वो “आगे बढ़ने” पर ध्यान लगा रहे हैं।

ये भी पढ़ें: 98 पर आउट हुए ग्लेन मैक्सवेल ने कहा, शतक से ज्यादा जीत का महत्व

बयान में कहा गया है, “ये लेख पिछले साल दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर डेविड वार्नर को खेलने के इजाजत देने पर हमारे चौथे टेस्ट से हटने का दावा करता है। ये दावा बेहद निराशाजनक है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि ये सरासर गलत है। इसमें लगाए आरोपों से ‘डेविड के साथ हमारे संबंधों पर सवाल उठते हैं”। एक टीम के रूप में हम सभी एक साथ आगे बढ़ने और ऑस्ट्रेलियाई टीम को विश्व कप और एशेज के लिए तैयार करने में मदद करने पर ध्यान दे रहे हैं।”

स्मिथ और वार्नर को टीम से दोबारा जोड़ने का कार्यक्रम दुबई में शुरू हुआ, जब दोनों खिलाड़ी आईपीएल के लिए भारत आने से पहले पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज खेलने के लिए यूएई पहुंची ऑस्ट्रेलियाई वनडे टीम से मिले। दोनों खिलाड़ियों का बैन 29 मार्च को खत्म हो गया है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के नाम अनचाहा रिकॉर्ड, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्लीन स्वीप का खतरा

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख केविन रॉबर्ट्स ने इस बारे में कहा, “हम डेव, स्टीव और कैमरून का समर्थन करने के लिए हरसंभव कोशिश करने को तैयार हैं। टीम के साथ उनके संबंध बिगाड़ने के बजाय उन्हें सुधारने पर काम करे रहे हैं। साथ ही अगर खुलकर कहें तो किसी काम करने की जगह पर आपको हर किसी के साथ गहरी दोस्ती करना जरूरी नहीं होता है लेकिन वहां पर एक सम्मान की भावना होना जरूरी है और मुझे लगता है कि वो यहां पर है।” रॉबर्ट्स का मानना है कि तीनों खिलाड़ियों में अपनी गलती को स्वीकार किया और सजा को पूरा किया है।