मिचेल स्टार्क © Getty Images
मिचेल स्टार्क © Getty Images

अगर कोई आपसे पूछे कि दुनिया का सबसे तेज गेंदबाज कौन है? तो आप झट से शोएब अख्तर का नाम बता देंगे। लेकिन ये जानकर आपके होश उड़ जाएंगे कि ऑस्ट्रेलिया के दो तेज गेंदबाजों ने हाल ही में दुनिया की छठी और सातवीं सबसे तेज गेंद फेंकी। पहले मैच में मिचेल स्टार्क और पैट कमिंस ने जीत में अहम भूमिका निभाई और दोनों ने जरूरत के समय टीम के लिए विकेट निकाले। अब दूसरे टेस्ट से पहले स्टार्क और कमिंस ने इंग्लैंड के पसीने छुड़ा दिए हैं। दरअसल, कमिंस ने हाल ही में 159 किमी/ घंटा की रफ्तार से गेंद फेंकी और हद तो तब हो गई जब स्टार्क ने कमिंस से एक कदम आगे निकलते हुए 160 किमी/घंटा की रफ्तार से गेंद फेंक दी। आइए आपको बताते हैं कि दोनों गेंदबाजों ने कहां और कैसे इतनी रफ्तार से गेंद फेंकी।

वीडियो गेम में फेंकी ‘गोली’ की रफ्तार से गेंद: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने हाल ही में एक वीडियो गेम बनाया है। इस गेम में खिलाड़ी बनाम खिलाड़ी मैच खेला जा रहा था। यानि कि वीडियो गेम में मैच स्टार्क और कमिंस के बीच खेला जा रहा था। गेम का एक रिमोट कमिंस के हाथ में था और दूसरा स्टार्क के। इस दौरान कमिंस ने पहले 159 किमी/घंटा की रफ्तार से गेंद फेंकी और फिर स्टार्क ने भी 160 किमी/घंटा की रफ्तार से गेंद फेंककर कमिंस को हरा दिया। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है और स्टार्क से सवाल किया है कि क्या वो इतनी तेज गेंद दूसरे टेस्ट में फेंक सकेंगे।

 

आर अश्विन मौजूदा समय के सबसे महान स्पिनर हैं: मुथैया मुरलीधरन
आर अश्विन मौजूदा समय के सबसे महान स्पिनर हैं: मुथैया मुरलीधरन

दुनिया में सबसे तेज गेंद फेंकने का विश्व रिकॉर्ड शोएब अख्तर (161.3 किमी/घंटा) के नाम है। दूसरे नंबर पर शॉन टेट (161.1 किमी/घंटा) हैं। तीसरे पर ब्रेट ली (161 किमी/घंटा) हैं। आपको बता दें कि 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया था और इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने 5 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। दोनों देशों के बीच दूसरा टेस्ट मैच 2 दिसंबर से एडिलेड में खेला जाएगा। ये मुकाबला दिन/रात का होगा और एशेज इतिहास में ये पहली बार होगा जब कोई टेस्ट दिन/रात का खेला जाएगा।