Mithali Raj advocates for more Tests after England draw; Praises Shefali Verma
मिताली राज (Twitter)

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने खेल के सबसे लंबे फॉर्मेट खेलने का अनुभव बढ़ाने में मदद करने के लिए और अपनी टीम के लिए और ज्यादा टेस्ट मैच आयोजित करने की वकालत की है।

भारतीय टीम ने स्नेह राणा (नाबाद 80) और तानिया भाटिया (नाबाद 44) के बीच नौवें विकेट के लिए हुई 99 रनों की नाबाद साझेदारी के दम पर ब्रिस्टल के काउंटी क्रिकेट ग्राउंड पर इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मुकाबले के चौथे दिन शनिवार को मैच को ड्रॉ करा दिया।

इंग्लैंड ने दूसरे दिन नौ विकेट पर 396 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की थी जबकि भारत की पहली पारी आज पहले सत्र में 231 रनों पर सिमट गई। इससे इंग्लैंड को 165 रनों की बड़ी बढ़त हासिल हुई, जिसके बाद उसने भारत को फोलोऑन खेलने पर मजबूर कर दिया।

England Women vs India Women, Only Test: Sneh Rana ने टाली भारत की हार, इंग्लैंड ड्रॉ पर हुआ मजबूर

मिताली ने मैच के बाद कहा, “पांच दिवसीय टेस्ट होना एक अच्छा विचार है लेकिन पहले हमें वास्तव में नियमित रूप से टेस्ट मैच शुरू करने होंगे।”

भारतीय महिला टीम करीब सात साल बाद अपना पहला टेस्ट मैच खेल रही थी। टीम ने पिछले पांच दशक में केवल 36 टेस्ट मैच खेले हैं। भारतीय टीम ने 2010 से 2020 तक केवल दो ही टेस्ट मैच खेले हैं।

मिताली ने कहा, “एक सीरीज में एक टेस्ट मैच का होना महत्वपूर्ण है और फिर इसे पांच दिनों तक ले जाएं। मैं पांच दिवसीय टेस्ट के साथ भी ठीक हूं, लेकिन मैं एक सीरीज में पहले एक टेस्ट मैच करना पसंद करूंगा और फिर इसे वहां से ले जाऊंगा।”