Mithali Raj threatened to retire if she couldn’t open -coach Ramesh Powar
Mithali raj and Ramesh Powar

भारतीय क्रिकेट टीम की सबसे अनुभवी खिलाड़ी मिताली राज का विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है और अब इस विवाद में एक नया मोड़ सामने आया है। वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ की रिपोर्ट के अनुसार, महिला टीम के मुख्य कोच रमेश पोवार ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को सौंपी गई रिपोर्ट में मिताली पर कोचों को ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है।

पोवार ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मिताली ने उन्हें ओपन होने का मौका न मिलने पर महिला वर्ल्ड टी-20 से नाम वापस लेने और संन्यास लेने की धमकी दी थी। उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली को कोचों को ब्लैकमेल करना और उन पर दबाव डालना बंद करना चाहिए। उन्हें खुद से पहले टीम के हित को देखना चाहिए।

मिताली के बारे में किया गया यह खुलासा महिला टी-20 विश्व कप में भारत के प्रदर्शन पर कोच द्वारा किए गए मूल्यांकन का हिस्सा है, जिसमें भारत को इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में हार मिली थी।

उल्लेखनीय है कि इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में मिताली को अंतिम एकादश से बाहर रखने की बात ने बड़े विवाद का रूप ले लिया और इस मामले में कोच पोवार से टी-20 विश्व कप में भारतीय टीम के प्रदर्शन की रिपोर्ट मांगी गई।
इसके कुछ समय बाद मिताली ने मंगलवार को टीम के कोच रमेश पोवार और प्रशासकों की समिति (सीओए) की अध्यक्ष डायना इडुल्जी को आड़े हाथों लिया है। पूर्व कप्तान ने कहा है कि इन दोनों का उन्हें बाहर बैठाने में बड़ा हाथ है।

मिताली के इस आरोप पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पोवार ने उन्हीं पर आरोप लगाए। उन्होंने कहा “मुझे आशा है कि मिताली कोचों को ब्लैकमेल करना और उन पर दबाव डालना बंद करते खुद से पहले टीम के हित के बारे में सोचना शुरू करेंगी। आशा है कि वह एक बड़ी छवि को देखना शुरू करेंगी और महिला क्रिकेट की बेहतरी की ओर काम करेंगी।”