पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के डेब्यू मैच का हिस्सा रहे टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif) ने इस दिग्गज खिलाड़ी के आगामी टी20 विश्व कप में खेलने का समर्थन किया है। कैफ का कहना है कि धोनी को टी20 विश्व कप से बाहर करना गलत होगा क्योंकि उनमें अभी काफी क्रिकेट बाकी है।

एएनआई से बातचीत में कैफ ने कहा, “देखिए कई लोगों की नजरें इस बात पर है कि धोनी आईपीएल में कैसा खेलेगा और उसके बाद टी20 विश्व कप की बात होगी लेकिन मेरा विचार लोगों अलग है। मैं धोनी को उनकी आईपीएल फॉर्म के आधार पर नहीं आकता हूं। वो एक महान बल्लेबाज है और फिट है। वो आईपीएल खेलना चाहता है, कप्तानी करना चाहता है और खेलने के लिए हाजिर है। वो एक मैच जीतने वाला खिलाड़ी है और उसे पता है कि दबाव में मैच कैसे जीते जाते हैं।”

उन्होंने कहा, “इसलिए मुझे लगता है कि उसे टी20 विश्व से हटाना गलत होगा। देखिए धोनी में काफी क्रिकेट बाकी है और जब कोई खिलाड़ी इतना लंबा खेलता है तो करियर में उतार-चढ़ाव आते हैं। ये हर क्रिकेटर के साथ होता है, केवल धोनी के साथ नहीं।”

इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर चल रहे धोनी के आईपीएल प्रदर्शन के दम पर विश्व कप से पहले टीम में वापसी की उम्मीद थी लेकिन कोविड-19 महामारी की वजह से इस टूर्नामेंट को फिलहाल के लिए स्थगित कर दिया है। जिसके बाद कई पूर्व क्रिकेटरों ने बयान दिए कि धोनी अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी नहीं कर सकेंगे और न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच ही उनका आखिरी मैच था।

इस पर कैफ ने कहा, “हमने जो विश्व कप सेमीफाइनल हारा, वहां सभी चाहते थे कि धोनी हमें मैच जिताए लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए वहां से लोगों ने सोचना शुरू कर दिया कि धोनी को यहां नहीं होना चाहिए। लेकिन मेरे लिए, धोनी चैंपियन खिलाड़ी है।”

उन्होंने आगे कहा, “लोगों को धोनी के पिछले 10-15 सालों के रिकॉर्ड को देखना चाहिए। मौजूदा फॉर्म जरूरी है लेकिन साथ ही उसकी फॉर्म इतनी खराब नहीं है कि आप उसे बाहर कर दें।”