विशाखापत्तनम टेस्ट में पहली पारी में भारत को पहला विकेट शमी ने दिलाया था। © Getty Images
विशाखापत्तनम टेस्ट में पहली पारी में भारत को पहला विकेट शमी ने दिलाया था। © Getty Images

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले और दूसरे टेस्ट दोनों में अच्छा प्रदर्शन किया। राजकोट टेस्ट में शमी ने दो विकेट लिए थे वहीं वाइजैग टेस्ट में शमी के खाते में तीन विकेट गए। दूसरे टेस्ट में मिली बेहतरीन जीत के बाद शमी भी बाकी खिलाड़ियों की तरह खुश हैं। वहीं वाइजैग मैच के बाद सभी लोग भारतीय तेज गेंदबाजों की तारीफ कर रहे हैं क्योंकि दोनों ही गेंदबाजों शमी और उमेश ने न सिर्फ लगातार 140 की गति से गेंद की बल्कि स्पिन की मददगार पिचों पर विकेट भी चटकाए। इनमें से सबसे ज्यादा चर्चा रही दूसरे टेस्ट   में इंग्लैंड की पहली पारी में कप्तान एलियेस्टर कुक के विकेट की। ये भी पढ़ें: भारत बनाम इंग्लैंड, टेस्ट सीरीज: अंतिम तीन टेस्ट मैचों के लिए टीम इंडिया घोषित 

शमी ने मैच के दूसरे दिन इंग्लैंड के कप्तान एलियेस्टर कुक को तीसरे ओवर की तीसरी गेंद पर बोल्ड आउट किया। शमी की गेंद इतनी ज्यादा तेज थी कि कुक का ऑफ स्टंप दो टुकड़ों में टुट गया। कुक एक पल के लिए समझ ही नही पाए कि वह आउट हो गए हैं। शमी ने इस विकेट के बारें में कहा, “ऐसा विकेट लेने पर आपको काफी खुशी होती है। इस स्थिति मे जब आप टीम को विकेट दिलाते हैं तो आप खुद पर गर्व करते हैं। टेस्ट क्रिकेट में आपको धैर्य रखना पड़ता है और इंतजार करना होता है कि बल्लेबाज आगे आकर खेले। आप उस के लिए फील्ड सेट करें और ऐसा ही मैने कुक के साथ किया। मैने इंतजार किया कि वह बाहर खेले, पहले मैने दो गेंदे बाहर की और फिर एक गेंद अंदर की जिसके बाद गैप मिला।” उन्होंने आगे कहा, “आप जितान ज्यादा खेलते हैं उतने समझदार होते जाते हैं। मैने शॉट गेंदे भी की थी, मैने सोचा अगर एक दो चौके गए तो कोई बात नहीं और फिर इस प्लॉन में कुक फंस गए। हमारे लिए यह जीत काफी जरूरी थी क्योंकि हम अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे हैं। वहीं पहला मैच भी ड्रॉ हो गया था इस वजह से जीत हमारे लिए अहम थी।” ये भी पढ़ें: विराट कोहली ने कहा और बेहतर खेल सकती थी इंग्लैंड टीम

अगला टेस्ट मैच 26 नवंबर से मोहली में खेला जाने वाला है। शमी का मानना है कि टीम इस मैच में भी उम्दा प्रदर्शन करेगी। शमी ने इस बारें बात करते हुए कहा, “हम अब 1-0 से आगे हैं इसलिए सभी का हौसला बढ़ा हुआ है। मोहाली में स्थितियां और मौसम दोनों ही अच्छा होगा। शमी ने उमेश के साथ गेंदबाजी करने के बारें में भी बात की। शमी ने कहा, ” उमेश के साथ गेंद करने का काफी अच्छा रहता है। जब आप ऐसे गेंदबाज के साथ करते हो जो आप की तरह ही 140 के ऊपर गेंद डालता है तो एक अच्छी समझ बनती है आप दोनों के बीच।”