×

अंदर की जानकारी चाहिए... सिराज को किया करप्शन के लिए अप्रोच, पुलिस ने धर दबोचा

मोहम्मद सिराज ने बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट को इस बात की जानकारी दी थी. बोर्ड करप्शन को लेकर बहुत सख्त रवैया अपनाता है.

Siraj anti-corruption

Siraj anti-corruption

नई दिल्ली: भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने बीसीसीआई की भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई (एसीयू) को बताया था कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने इस साल फरवरी में ऑस्ट्रेलिया टीम के दौरे से पहले टीम की अंदरूनी जानकारी पाने के लिए उनसे संपर्क किया था.

आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के लिए खेलने वाले सिराज ने बीसीसीआई (BCCI) की एसीयू (ACU) को इसकी जानकारी दी थी.

समझा जाता है कि सटोरिये ने भारत के मैचों के दौरान काफी पैसा गंवा दिया था और हताशा में सिराज को मैसेज भेजा था. भारत ने जनवरी फरवरी में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीमित ओवरों की घरेलू श्रृंखला खेली जिसके बाद आस्ट्रेलियाई टीम यहां आई. भारत ने श्रीलंका को टी20 सीरीज में 2-1 से हराया और वनडे सीरीज 3-0 से जीती.

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत ने वनडे सीरीज 3-0 से जीती और टी20 सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की.

बोर्ड के एक सूत्र ने बताया ,‘जिसने सिराज से संपर्क किया वह सटोरिया नहीं था. वह मैचों पर सट्टा लगाने का आदी हैदराबाद का एक ड्राइवर था. उसने काफी पैसा गंवा दिया था इसलिये उसने अंदरूनी जानकारी के लिये सिराज से वाट्सअप पर संपर्क किया.’ उन्होंने कहा, ‘सिराज ने तुरंत इसकी सूचना दी. आंध्र पुलिस ने उस व्यक्ति को पकड़ लिया है.’

जब से एस. श्रीसंत, अनिकेत चव्हाण और अजीत चंदेलिया- तीनों उस समय राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाज थे- को स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. और चेन्नई सुपर किंग्स के अधिकारी गुरुनाथ मयप्पन को मई 2013 में सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, बीसीसीआई ने अपनी एंटी-करप्शन मुहिम को काफी तेज कर रखा है.

खिलाड़ियों के लिए एंटी करप्शन वर्कशॉप करना जरूरी है और जो खिलाड़ी करप्शन के लिए अप्रोच किए जाने के बाद रिपोर्ट नहीं करते हैं उन पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है. बांग्लादेश के कप्तान शाकिब-अल-हसन को 2019 में इस वजह से सस्पेंड कर दिया गया था क्योंकि उन्होंने आईपीएल 2018 के आईपीएल के दौरान भ्रष्टाचार के लिए अप्रोच किए जाने की जानकारी नहीं दी थी.

trending this week