Mohsharaf Hossain is taking inspiration from Yuvraj Singh to make a comeback after brain surgery

ब्रेन ट्यूमर से पीड़ित बांग्लादेशी स्पिनर मोहशर्फ होसैन पूर्व भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह से प्रेरणा लेकर क्रिकेट के मैदान पर वापसी करना चाहते हैं। टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज युवराज ने कैंसर से जूझने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की थी।

क्रिकबज से बातचीत में मोहशर्फ ने कहा, “युवराज सिंह ने अतीत में इसे साबित किया था और मैं जाहिर तौर पर उनसे प्रेरित हूं क्योंकि इसने मुझे भरोसा दिलाया कि मैं खेल सकता हूं। मुझे पता है कि मैं एक बड़ी लड़ाई लड़ रहा हूं लेकिन मैं आपको भरोसा दिला दूं कि मैं अंदर से खोया नहीं हूं।”

मोहशर्फ को इसी साल मार्च में पता चला कि उन्हें ब्रैन ट्यूमर है, जिसने उन्हें डरा दिया था। उनकी रेडिया थेरेपी और ब्रेन सर्जरी सफल रही है, हालांकि अबी तीन और थेरेपी बाकी है। लेकिन इस गेंदबाज को उम्मीद है कि वो आगामी नेशनल क्रिकेट लीग में खेल सकेंगे।

रोहित शर्मा नहीं खोल सके खाता; केएल राहुल ने जड़ा शतक

बांग्लादेशी स्पिनर ने कहा, “मैं एनसीएल से् खेलने की शुरुआत करना चाहता हूं। एक मैच खेलने के बाद मुझे समझ आएगा कि मैं शारीरिक तौर पर कहां रहूं। फिलहाल मुझे अपनी फिटनेस को सुधारने पर ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि यही मेरी एकलौती रुकावट है। अगर मैं फिटनेस हासिल कर सकता हूं तो निश्चित तौर पर मैं खेल सकता हूं क्योंकि तब मैं बल्ले और गेंद के साथ अपनी भूमिका को पूरा करने के लिए तैयार रहूंगा जो कि प्लेइंग इलेवन में शामिल होने के लिए जरूरी है।”

उन्होंने कहा, “अगर मैं आंखे बंद करके गेंदबाजी करता हूं तो भी गेंद सही एरिया में गिरती है। मैंने आखिरी कीमो थेरेपी से पहले गेंदबाजी की थी और मेरी गेंदबाजी हर दिन के साथ बेहतर होती जा रही है। मैंने पिछले दिन इमरुल कायस को गेंदबाजी की थी और उसने कहा था कि तुम अपने हथियार दे सकते हो लेकिन ट्रेनिंग को नहीं।”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी दो टी20 मैचों के लिए भारतीय टीम का ऐलान

मोहशर्फ एनसीएल के अलावा दूसरे घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट में भी हिस्सा लेने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “मैं केवल घरेलू सर्किट में प्रतिद्वंदी क्रिकेट खेलना चाहता हूं और मैं उस तरह का प्रदर्शन करना शुरू करना चाहता हूं जैसा मैं अर्द्धशतक बनाने और नियमित रूप से पांच विकेट लेने के लिए करता था। मैं इसे फिर से शुरू करना चाहता हूं। मैं घरेलू स्तर पर खेलना चाहता हूं और पहले की तरह हावी होना चाहता हूं। जब मैं नेशनल लीग के सभी सात मैचों में मैन ऑफ द मैच बना, जबकि मैं ढाका प्रीमियर लीग में लगातार पांच या छह मैच में मैन ऑफ द मैच रहा।”