Moises Henriques opens up about his battles with depression
moises Henriques

ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर मोजेज हेनरिक्स ने अवसाद के अपने अनुभव को साझा करते हुए कहा कि वह एक बार प्रथम श्रेणी मैच के दौरान आत्महत्या करने के बारे में सोच रहे थे।

VIRAL VIDEO: इरफान पठान ने पिता को दी पुलिस बनने की सलाह, मिला ये जवाब

ऑस्ट्रेलिया के लिए 11 एकदिवसीय, 11 टी20 अंतरराष्ट्रीय और चार टेस्ट खेलने वाले 33 साल के हेनरिक्स का 2017 में अवसाद का इलाज हुआ था।

इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्व करने वाले हेनरिक्स ने ‘ओडिनेरोली स्पीकिंग पोडकास्ट’ से कहा, ‘अगर आप गूगल पर अवसाद के लक्षणों को देखेंगे तो मैं सभी से बुरी तरह से ग्रसित था।’

उन्होंने कहा, ‘मुझे याद है मैं बिस्तर पर पड़ा रहता था और खुद ही अलग-अलग दवाईयों को लेने के बारे में सोचता रहता था। मैं सोचता था कि किसी फोन करूं?’

उन्होंने बताया कि एक बार तस्मानिया के खिलाफ मैच के बाद घर लौटते समय वह अपनी कार को दुर्घटनाग्रस्त करना चाहते थे।

कोहली, शास्त्री सहित खेल जगत ने सचिन तेंदुलकर को 47वें जन्मदिन पर दी बधाई, जानें किसने क्या कहा

उन्होंने कहा, ‘मुझे याद है मैं कार में था और 110 की गति से कार चला रहा था। मैं सोच रहा था कि कार को ऐसे मोडू की किसी खंभे या दूसरी चीज से टकरा जाए।’

हेनरिक्स ने कहा, ‘मैंने अपनी योजना को हालांकि बदल दिया क्योंकि मैं अपने परिवार और टीम को दुखी नहीं देखना चाहता था। मैं टीम को दो दिनों के लिए मैदान पर दस खिलाड़ियों के साथ नहीं छोड़ सकता था।’