एम एस धोनी © Getty Images
एम एस धोनी © Getty Images

टीम इंडिया के विकेटकीपर एम एस धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ कटक टी20 में अपनी बल्लेबाजी और अपनी विकेटकीपिंग से सभी का दिल जीत लिया। एम एस धोनी ने बल्ले से तेज तर्रार 39 रनों की पारी खेली। वहीं विकेटकीपर के तौर पर उन्होंने 2 कैच और 2 गजब के स्टंप भी किये। एम एस धोनी ने पहले अपनी बल्लेबाजी का जौहर दिखाया। उन्होंने 22 गेंद में 39 रनों की पहली खेली, जिसमें धोनी ने 4 चौके और एक छक्का लगाया। धोनी ने मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाया। आपको बता दें धोनी टी20 इंटरनेशनल में आखिरी गेंद पर सबसे ज्यादा 5 बार छक्के लगा चुके हैं। धोनी के अलावा एंजेलो मैथ्यू, मशरफे मुर्ताजा, नाथन मैक्कलम और शफीकुल्लाह ने 2-2 बार ये कारनामा किया है।

वैसे धोनी को आखिरी गेंद पर छक्के लगाने की आदत सी है। दरअसल धोनी 13 बार वनडे क्रिकेट में पारी की आखिरी गेंद पर छक्के लगा चुके हैं। जिसमें से 9 छक्के लक्ष्य का पीछा करते हुए लगे हैं। धोनी ने टेस्ट क्रिकेट में भी 3 बार पारी की आखिरी गेंद पर छक्का लगाया है। धोनी ने कटक टी20 में भी ऐसा ही किया।

 

धोनी बने सबसे सफल टी20 विकेटकीपर

एम एस धोनी ने कटक टी20 में बल्लेबाजी के अलावा अपनी विकेटकीपिंग का जलवा भी बिखेरा। धोनी ने 5वें ओवर में युजवेंद्र चहल की गेंद पर उपुल थरंगा का जबर्दस्त कैच लपका। इसके बाद धोनी ने युजवेंद्र चहल की ही गेंद पर गुणारत्ने और श्रीलंकाई कप्तान तिसारा परेरा को स्टंप आउट किया। धोनी ने विकेट के पीछे इतनी तेजी से इनकी गिल्लियां उड़ाई की हर कोई देखता रह गया। टी20 क्रिकेट में विकेट के पीछे 4 शिकार करते ही धोनी अब क्रिकेट के इस फॉर्मेट के सबसे सफल विकेटकीपर बन गए हैं। धोनी के टी20 इंटरनेशनल में कुल 74 शिकार हो गए हैं और उन्होंने ए बी डीविलियर्स को पछाड़ दिया है जिनके नाम टी20 में 72 शिकार हैं। घरेलू और इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट की बात करें धोनी के कुल 200 शिकार हो गए हैं। उनसे आगे सिर्फ पाकिस्तान के कामरान अकमल हैं, जिनके नाम 207 शिकार हैं।