पूर्व दिग्गज अनिल कुंबले (Anil Kumble) के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के लिए सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ सबसे अच्छी विकेटकीपिंग करने वाले खिलाड़ी के बारे में बात करते हुए पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का नाम लिया।

अश्विन ने पूर्व दिग्गज धोनी, ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) और दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) की स्पिन के खिलाफ विकेटकीपिंग करने की क्षमता का आंकलन किया। अश्विन ने कहा कि धोनी धोनी स्पिन के खिलाफ “असाधारण” थे। अश्विन ने कहा कि उन्होंने “शायद ही कोई गेंद छोड़ी हो।”

सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर चुनते हुए अश्विन ने कहा, “धोनी, साहा और डीके – इसी क्रम में, आप जवाब ले सकते हैं। स्टंप के पीछे उनकी क्षमता के बीच अंतर बता पाना बहुत मुश्किल है।”

भारतीय स्पिनर ने कहा, “मैंने तमिलनाडु में दिनेश के साथ बहुत क्रिकेट खेला है। लेकिन अगर मुझे किसी एक को चुनना है .. मुझे लगता है कि धोनी ने स्टंप्स के पीछे कई शानदार डिसमिसल्स को आसान बना दिया गया है।”

उन्होंने कहा, “चेन्नई में एड कोवान का एक डिसमिसल था, जहां वो (बल्लेबाज) बाहर निकले और स्टंप हो गए। गेंद टर्न नहीं हुई लेकिन बाउंस हो गई और एमएस धोनी ने गेंद को पकड़ा। मैंने उसे शायद ही कुछ छोड़ते हुए देखा हो, चाहे वो स्टंपिंग हो या रन आउट या कैच। वो स्पिन के खिलाफ सबसे असाधारण कीपरों में से एक है। हालांकि साहा भी ज्यादा पीछे नहीं हैं।”

धोनी ने 2020 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया लेकिन वो इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेल रहे हैं। धोनी की कप्तानी में सीएसके ने 14वें आईपीएल सीजन में अपना चौथा खिताब जीता।

इस बीच, ऋद्धिमान साहा और रिषभ पंत दक्षिण अफ्रीका के आगामी टेस्ट दौरे के लिए भारतीय टीम का हिस्सा हैं। दिनेश कार्तिक वर्तमान में अंतरराष्ट्रीय सेटअप का हिस्सा नहीं हैं, जो आखिरी बार 2019 में टीम इंडिया में नजर आए थे।