सचिन तेंदुलकर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेल चुके हैं  © Getty Images
सचिन तेंदुलकर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेल चुके हैं © Getty Images

भारत बनाम श्रीलंका वनडे सीरीज के पहले मैच में ही टीम इंडिया ने अपना दम दिखा दिया। शिखर धवन की धमाकेदार बल्लेबाजी की मदद से टीम ने ये मैच 9 विकेट से जीत लिया लेकिन महेंद्र सिंह धोनी को बल्लेबाजी का मौका ना मिल पाने से उनके फैंस काफी निराश हैं। धोनी ने इस सीरीज के जरिए लंबे समय के बाद मैदान पर कदम रखा है। 300 वनडे खेलने के करीब पहुंच चुके धोनी इस सीरीज पर कई बड़े रिकॉर्डों को तोड़ सकते हैं। माही के निशाने पर सबसे पहले रिकॉर्ड और किसी का नहीं बल्कि क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का है। धोनी सचिन को पीछे छोड़ श्रीलंका के खिलाफ सर्वाधिक वनडे अर्धशतक लगाने वाले भारतीय बन सकते हैं।

धोनी और सचिन दोनों ने ही श्रीलंका के खिलाफ अब तक कुल 17 अर्धशतक लगाए हैं। धोनी को सचिन से आगे निकलने के लिए केवल 50 रनों की जरूरत है। गौरतलब है कि धोनी सचिन के बाद श्रीलंका के खिलाफ वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज भी हैं। धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ खेले 19 मैचों में 1,462 रन बनाए हैं, जबकि सचिन ने 25 मैचों में कुल 2,149 रन जोड़े हैं। धोनी भविष्य में इस मामले में भी सचिन को पीछे छोड़ सकते हैं, इसके लिए उन्हें 687 रनों की जरूरत है। [ये भी पढ़ें: श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में ये बड़े रिकॉर्ड बना सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी]

श्रीलंका के खिलाफ धोनी का प्रदर्शन हमेशा ही अच्छा रहा है। अपने करियर की कई यादगार पारियां माही ने श्रीलंका के खिलाफ ही खेली हैं। जयपुर में श्रीलंका के खिलाफ धोनी की 183 रनों की विस्फोटक पारी को भला कौन भूल सकता है। साथ ही 2011 विश्व कप फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ धोनी की 91 रनों की मैच विनिंग पारी की बदौलत ही भारत 28 साल बाद विश्व विजेता बन सका था। भारत श्रीलंका के खिलाफ अगला मैच 24 अगस्त को पल्लेकेले में खेलेगा, उम्मीद है कि माही इस मैच में शानदार बल्लेबाजी कर सचिन का ये रिकॉर्ड तोड़ देंगे।