पूर्व दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) पिछले 50 सालों में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सबसे प्रेरणादायक कप्तान रहे हैं, ऐसा कहना है पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ग्रैग चैपल (Greg Chappell) का। चैपल ने कहा कि धोनी क्रिकेट इतिहास में इंग्लैंड के माइकल ब्रियरली, ऑस्ट्रेलिया के इयान चैपल, मार्क टेलर और वेस्टइंडीज के क्लाइव लॉयड की बराबरी पर हैं।

आईएएनएस को दिए इंटरव्यू में टीम इंडिया के पूर्व कोच ने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान ये विकेटकीपर बल्लेबाज उनकी अपेक्षाओं पर पूरी तरह खरा उतरा और उनकी नजर में धोनी भारत के अब तक के सर्वश्रेष्ठ कप्तान हैं।

72 साल के चैपल ने कहा कि धोनी के पास अपार कौशल था और उन्हें प्रतिद्वंद्विता करना पसंद था। उन्होंने बताया कि वो धोनी के सामने कई चुनौतियां रखते थे और पूर्व भारतीय कप्तान हर चुनौती पर खरे उतरे थे। चैपल ने ये भी कहा कि धोनी के खेल के अलावा उन्हें इस खिलाड़ी का मजाकिया अंदाज भी बेहद पसंद था।

उन्होंने कहा, “धोनी के साथ मेरा अनुभव बतौर खिलाड़ी और बतौर इंसान, दोनों ही तरह से अच्छा रहा। उसके साथ काम करना आसान था क्योंकि वो खुले दिमाग वाला शख्स है। धोनी के साथ झूठी विनम्रता दिखाने की जरूरत नहीं पड़ती थी। अगर वो कुछ कर सकता था, तो वो ये कहने के लिए पर्याप्त आश्वस्त था कि वो ये कर सकता है।”

पूर्व कोच ने कहा, “धोनी का सबसे खास गुण उनकी आत्मविश्वास था। वो अपने आत्मविश्वास और स्पष्टता के दम पर बाकियों से अलग खड़ा होता था। एमएस को ‘गेम’ खेलने में कोई रूचि नहीं थी। वो सीधे बात करना पसंद करता था और वो वैसे ही जवाब भी देता था।”

जब चैपल से पूछा गया कि कि वो धोनी को वैश्विक कप्तानों की सूची में कहां रखेंगे तो उन्होंने कहा, “मेरे विचार से वो भारत का सर्वश्रेष्ठ कप्तान है और मैं उसे कप्तानों की सूची में सबसे ऊपर रखूंगा। वो माइकल ब्रियरली, इयान चैपल, मार्क टेलर और क्लाइव लॉयड के साथ पिछले 50 सालों के सबसे प्रेरणादायक कप्तानों की सूची में है।”