MS Dhoni knows how to react to any given situation; Says Michael Clarke
Michael-Clarke-and-MS-Dhoni © AFP

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली जहां लगातार उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं वहीं उनके पूर्ववर्ती कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की वर्तमान फॉर्म को लेकर क्रिकेट जगत की राय भिन्न है।

पढ़ें: ‘विराट कोहली वनडे में सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं’

धोनी अब वनडे में पहले की तरह आक्रामक शैली से नहीं खेलते हैं लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान माइकल क्लार्क का मानना है कि इस 37 वर्षीय पूर्व भारतीय कप्तान को अपना खेल खेलने के लिए अकेला छोड़ देना चाहिए।

क्लार्क ने कहा, ‘धोनी जानते हैं कि किस परिस्थिति में किस तरह से खेलना है। उन्होंने 300 से अधिक वनडे खेले हैं, इसलिए वह जानते हैं कि अपनी भूमिका कैसे निभानी है।’

लेकिन अगर तीसरे वनडे में लक्ष्य 230 के बजाय 330 होता तो क्या धोनी प्रभावशाली होते? इस सवाल के जवाब में क्लार्क ने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह फिर अलग तरह से बल्लेबाजी करते। लक्ष्य 230 रन का था और उनकी रणनीति इसी के अनुकूल थी और अगर लक्ष्य बड़ा होता तो उनकी रणनीति भिन्न होती।’

पढ़ें: मार्कस स्‍टोइनिस के ऑलराउंड प्रदर्शन से मेलबर्न स्‍टार्स को मिली जीत

क्लार्क से पूछा गया कि धोनी को विश्व कप में बल्लेबाजी क्रम में कौन से नंबर पर उतारना चाहिए, उन्होंने कहा, ‘चार, पांच या छह किसी भी स्थान पर। वह किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं और मुझे लगता है कि विराट उनका परिस्थितियों के अनुसार उपयोग करेंगे।’

क्लार्क ने हालांकि कहा कि वर्तमान में निलंबित ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में भारतीय अभियान में अहम भूमिका निभाएंगे। पांड्या और केएल राहुल एक टीवी कार्यक्रम के दौरान आपत्तिजनक टिप्पणी करने के कारण अभी निलंबित हैं।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘हार्दिक जैसा प्रतिभाशाली खिलाड़ी टीम में संतुलन बनाने के लिए बेहद जरूरी है। वह केवल अपनी बल्लेबाजी से मैच जिता सकते हैं। मुझे विश्वास है कि वह विश्व कप टीम का हिस्सा होंगे।’

(इनपुट-भाषा)