एमएस धोनी © Getty Images
एमएस धोनी © Getty Images

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी अब अपने क्रिकेट जीवन के सबसे बड़े रिकॉर्ड की ओर बढ़ रहे हैं। एमएस धोनी के नाम अबतक वनडे में 96 स्टंपिंग हैं अगर वह आने वाले दिनों में चार स्टंपिंग करने में कामयाब हो जाते हैं तो वनडे क्रिकेट में 100 स्टंपिंग करने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बन जाएंगे। मौजूदा समय में वनडे में सबसे ज्यादा स्टंपिंग करने के मामले में धोनी दूसरे नंबर पर हैं। धोनी जो साल 2004 से वनडे क्रिकेट में सक्रिय हैं उन्होंने 293 मैचों की 288 पारियों में 274 कैच लेते हुए 96 स्टंपिंग की हैं।

एमएस धोनी ने एक मैच में तीन स्टंपिंग का कारनामा तीन-तीन बार किया है। उन्होंने पहला कारनामा साल 2007 में एशिया एकादश की ओर से खेलते हुए अफ्रीका एकादश के खिलाफ, दूसरा कारनामा साल 2008 में भारत की ओर से खेलते हुए हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ, तीसरा कारनामा साल 2013 में भारत की ओर से खेलते हुए श्रीलंका के खिलाफ किया था।

वनडे में सबसे ज्यादा स्टंपिंग करने के मामले में पहले नंबर पर कुमार संगकारा हैं। संगकारा के नाम 99 स्टंपिंग हैं। श्रीलंका के कुमार संगकारा ने साल 2000 से 2015 तक वनडे क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने 404 मैचों में 99 स्टंपिंग के साथ 383 कैच भी लिए। इसके अलावा धोनी वनडे में अपने 10,000 रनों की ओर भी तेजी से बढ़ रहे हैं। धोनी के नाम अभी 293 मैचों की 253 पारियों में 9,364 रन दर्ज हैं। जाहिर है कि अगर वह एक साल और क्रिकेट में सक्रिय रहते हैं तो वनडे में अपने 10,000 रन भी पूरे कर लेंगे। इसके अलावा दुनिया में सबसे ज्यादा छक्के जड़ने के मामले में धोनी के निशाने में तीसरा स्थान कब्जाने का विचार कौंध रहा होगा।  ये भी पढ़ें: साल 2019 का विश्व कप खेलने के लिए एबी डीविलियर्स को देनी होगी बड़ी ‘कुर्बानी’?

धोनी के नाम अभी 206 छक्के हैं। वह इस समय चौथे स्थान पर हैं। पहले नंबर पर शाहिद अफरीदी (351 छक्के), दूसरे नंबर पर सनथ जयसूर्या (270 छक्के) और तीसरे नंबर पर क्रिस गेल (238 छक्के) हैं। जैसा कि गेल आजकल वनडे क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं ऐसे में धोनी के पास अगले कुछ दिनों में गेल को पीछे छोड़ते हुए तीसरे नंबर पर सबसे ज्यादा छक्के जड़ने वाले बल्लेबाज बन सकते हैं।