इंडियन प्रीमियर लीग का सबसे रोमांचक मुकाबला हमेशा ही टूर्नामेंट की दो सबसे सफल टीमों चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) और मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के बीच होता है। दोनों टीमों के कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिसने बीच टक्कर का मुकाबला होता है- ऐसी ही एक मुकाबला सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और मुंबई टीम के प्रमुख गेंदबाज लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) के बीच होता। दोनों ही खिलाड़ी एक दूसरे को पछाड़ने की कोशिश में रहते हैं लेकिन न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टायरिस (Scott Styris) का मानना ​​है कि धोनी अक्सर मलिंगा पर भारी पड़ते है।

चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल के 10 में आठ सीजन में फाइनल में पहुंची है जबकि मुंबई की टीम 12 सीजन खेलकर में से पांच बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही है लेकिन खिताब जीतने के मामले में मुंबई फ्रेंचाइजी चेन्नई से एक कदम आगे है।

स्टायरिश ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘‘ये निरंतरता से जुड़ा है, सीएसके का प्रदर्शन नॉकआउट मैचों में शानदार रहा है। आईपीएल से उम्मीद होती है कि वो भारतीय टीम के लिए खिलाड़ी तैयार करें और इस मामले में सीएसके ने सबसे ज्यादा नए खिलाड़ियों को तैयार किया है। टीम की कोशिश युवा खिलाड़ियों को तैयार करने की रहती है’’

उन्होंने कहा, ‘‘आखिरी ओवरों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के खिलाफ ये मैच के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर के बारे में है। धोनी और मलिंगा के मुकाबले में चेन्नई की टीम के कप्तान भारी पड़े है।’’