महेन्द्र सिंह धोनी ने भारत की वनडे और टी20 टीम की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है © Getty Images
महेन्द्र सिंह धोनी ने भारत की वनडे और टी20 टीम की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है © Getty Images

भारत को दो बार विश्व चैंपियन बनाने वाले महेन्द्र सिंह धोनी ने आज चौंकाने वाला फैसला लेते हुए सीमित ओवरों की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है। धोनी ने इसी तरह 2 साल पहले भी अचानक से टेस्ट कप्तानी से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया था। बुधवार की शाम धोनी के चाहने वालों के लिए किसी बुरे ख्वाब की तरह रही। हमेशा की तरह धोनी ने चुपके से यह फैसला लिया। बीसीसीआई की ओर से ट्वीट ने उनकी कप्तानी छोड़ने की खबर की पुष्टि की। धोनी का यह फैसला इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज शुरू होने के ठीक पहले आया है। हालांकि वह एक खिलाड़ी के रूप में टीम की सेवा के लिए उपलब्ध रहेंगे।

6 जनवरी को इंग्लैंड के खिलाफ 3 वनडे मैचों के लिए भारतीय टीम की घोषणा की जाएगी। धोनी द्वारा कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली अब तीनों प्रारूपों में भारत की कप्तानी करते नजर आएंगे। अभी तक विराट कोहली टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहे थे। धोनी भारत के ही नहीं बल्कि विश्व के सबसे सफल कप्तानों गिने जाते हैं। एक कप्तान के रूप में उन्होंने 3 आईसीसी टाइटल जीते हैं। 2007 में टी20 विश्व कप में जीत दिलाकर अपनी कप्तानी का बेहतरीन आगाज करने वाले धोनी ने 2011 में भारत को वनडे क्रिकेट का विश्व चैंपियन बनाया, तो 2013 में उन्हीं की कप्तानी में भारत ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी पर भी अपना कब्जा जमाया था। [Also Read: महेंद्र सिंह धोनी के इस्तीफे के बाद पत्नी साक्षी की पहली प्रतिक्रिया]

धोनी ने बीसीसीआई को कप्तानी छोड़ने के फैसले के बारे में सूचित किया। जिसके बाद बीसीसीआई ने एक प्रेस रिलीज के जरिए धोनी के इस फैसले के बारे में जानकारी दी।

 

जैसे ही धोनी के कप्तानी के इस्तीफे की खबर आई तुरंत ही ट्विटर पर लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं देनी शुरू कर दी। धोनी के इस फैसले को किसी ने सही ठहराया तो कई लोगों ने एक कप्तान के रूप में इस चैंपियन खिलाड़ी की तारीफ की।