IPL 2020 CSK vs MI MS Dhoni: अब तक 11 में से आठ मैच गंवाकर आईपीएल प्लेआफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अगले साल को ध्यान में रखते हुए बाकी तीन मैचों में युवाओं को परखा जायेगा.

मुंबई इंडियंस के हाथों दस विकेट से मिली हार के बाद धोनी ने कहा, ‘‘इस तरह के प्रदर्शन से दुख होता है. हमें देखना होगा कि गलती कहां हुई. यह हमारा साल नहीं था. आप भले ही आठ विकेट से हारें या दस विकेट से , वह मायने नहीं रखता लेकिन देखना यह है कि हम टूर्नामेंट में इस समय कहां है और यही दुखी करता है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमें दूसरे मैच से ही देखना था कि हम कहां गलत है. रायुडू चोटिल हो गया और बाकी बल्लेबाज अपना दो सौ फीसदी नहीं दे पाये. किस्मत ने भी हमारा साथ नहीं दिया. जिन मैचों में हम पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे, वहां टॉस नहीं जीत सके. जब हमने पहले बल्लेबाजी की तो ओस थी.’’

तीन बार की चैम्पियन टीम के कप्तान ने कहा, ‘‘खराब प्रदर्शन करने पर सौ बहाने दिये जा सकते हैं लेकिन सबसे अहम यह है कि हमें खुद से पूछना होगा कि क्या हम अपनी क्षमता के अनुरूप खेल सके. क्या हमने अब तक के अपने रिकार्ड के अनुसार खेला. नहीं. हमने कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुए.’’

धोनी ने कहा कि अगले साल के लिये तस्वीर साफ होना बहुत जरूरी है. उन्होंने कहा , ‘‘अगले साल बहुत सारे अगर मगर होंगे. आने वाले तीन मैचों में युवा खिलाड़ियों को परखा जायेगा. अगले साल को ध्यान में रखकर देखेंगे कि कौन डैथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी कर सकता है और कौन बल्लेबाजी का दबाव झेल सकता है. अगले तीन मैचों में नये चेहरों को आजमाया जायेगा.’’

(इनपुट भाषा)