MS Dhoni will need to step up as a batman, says Venkatesh Prasad
MS Dhoni © AFP

एशिया कप टूर्नामेंट में भारतीय टीम का प्रदर्शन शानदार रहा। टीम इंडिया ने बिना कोई मैच हारे अजेय रहते हुए सातवीं बार एशिया चैंपियन होने का खिताब जीता। सीनियर खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी ने टूर्नामेंट के दौरान कप्तान रोहित शर्मा की काफी मदद की। साथ ही धोनी ने विकेट के पीछे अपनी फुर्ती दिखाते हुए 800 अंतर्राष्ट्रीय डिसमिसल भी पूरे किए लेकिन एशिया कप में धोनी की बल्लेबाजी का धमाकेदार अंदाज देखने को नहीं मिला। इस बात से पूर्व क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद भी परेशान है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए लिखे कॉलम में प्रसाद ने धोनी के बतौर बल्लेबाज आगे आने की बात कही। उन्होंने लिखा, “यूएई में दो हफ्ते तक चले इस टूर्नामेंट के आखिर में रोहित शर्मा और कंपनी एशिया कप की चैंपियन के रूप में ऊभरी। अगले साल होने वाले विश्व कप पर नजर डालते हुए ये जीत भारतीय टीम का बड़ा इरादा दिखाती है। इतना कहने के बाद, ये भी सच है कि भारतीय टीम का मध्यक्रम कमजोर नजर आया। महेंद्र सिंह धोनी को बतौर बल्लेबाज आगे आने की जरूरत है। हालांकि रिषभ पंत इंतजार कर रहा है लेकिन धोनी की विकेटकीपिंग क्षमता अब भी बेहद तेज और बाकियों से कहीं ज्यादा ऊपर है।”

प्रसाद ने भारतीय पेस अटैक के दो स्तंभ भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने लिखा, “जहां रोहित और टूर्नामेंट में सर्वाधिक रन बनाने वाले शिखर धवन ने शानदार फॉर्म दिखाई, वहीं भारत के अभियान की सबसे अच्छी बात तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह रहे। सपाट पिच पर तेज गेंदबाजों की प्रयास काबिले तारीफ था, और उतनी ही रोहित की कप्तानी भी। इस सलामी बल्लेबाजी ने आगे से टीम का नेतृत्व किया, एक शतक और दो अर्धशतकों के साथ 317 रन बनाए, साथ ही गेंदबाजी और फील्डिंग में कई बेहतरीन बदलाव किए।”