MSK Prasad: Surprising to see Shikhar Dhawan’s flop show in Tests
shikhar Dhawan (File Photo) © Getty Image

इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज के दौरान भारत को 1-4 से हार का सामना करना पड़ा। लगभग सभी मैचों में भारत को खराब शुरुआत मिली। जिसके कारण टीम इंडिया पिछड़ती चली गई। सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन पूरी टेस्‍ट सीरीज के दौरान फ्लॉप रहे। धवन ने 20.25 की औसत से 162 रन बनाए। इस सीरीज में वो एक अर्धशतक भी नहीं बना पाए।

खराब प्रदर्शन के बाद शिखर धवन को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज से बाहर कर दिया गया है। भारतीय टीम के मुख्‍य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद का मानना है कि धवन का टेस्‍ट क्रिकेट में अचानक फेल होना उनके लिए काफी चौकाने वाला रहा है। इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत के दौरान प्रसाद ने कहा, “मेरे लिए शिखर धवन को ड्रॉप करने का निर्णय काफी कठिन था। धवन ने वाइट बॉल क्रिकेट में अच्‍छा प्रदर्शन किया है। ऐसे में रेड बॉल क्रिकेट में उनके इस तरह फेल होने की मैंने उम्‍मीद नहीं की थी।”

एमएसके प्रसाद ने कहा, “धवन को उचित मौके दिए जाने के बाद हमें उन्‍हें लेकर कठिन फैसला लेना पड़ा। अगर वो आगे आने वाले दिनों में मेहनत करते हैं तो उनके लिए टेस्‍ट क्रिकेट के दरवाजे फिर खुल सकते हैं।” वेस्‍टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज चार अक्‍टूबर से शुरू हो रही है। रिद्धिमान साहा के चोटिल होने के कारण विकेटकीपिंग की कमान रिषभ पंत को सौंपी गई है। पंत ने इंग्‍लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान ही अपना टेस्‍ट डेब्‍यू किया था।

प्रसाद ने कहा, “हमें पता है कि रिषभ बतौर बल्‍लेबाज काफी प्रभावी हैं। वो टेस्‍ट में छठे और सातवें नंबर पर टीम को मजबूती दे सकते हैं। विकेटकीपिंग की बात की जाए तो उसमें उन्‍हें अभी काफी काम करने की जरूरत है। विकेटकीपिंग को लेकर हम निगरानी कर रहे हैं। हमने बीसीसीआई से अनुरोध किया है कि विकेटकीपिंग को लेकर पंत के लिए एनसीए में कैंप लगाया जाना चाहिए।”

एमएसके प्रसाद ने कहा, “पंत विशेषज्ञ कोच किरन मोरे, अभय शर्मा की निगरानी में अभ्‍यास कर रहे हैं। अगर वो अच्‍छा करता है तो भारतीय टीम को इससे काफी फायदा होगा।” प्रसाद का मानना है कि टीम इंडिया विदेशों में भी टेस्‍ट सीरीज के दौरान अच्‍छा प्रदर्शन कर सकती है। मुझे लगता है कि हमारे पास इस वक्‍त सबसे अच्‍छा गेंदबाजी अटैक है। जिस तरह से इंग्‍लैंड और साउथ अफ्रीका में हमारे गेंदबाजों ने प्रदर्शन किया वो काफी अच्‍छा था। स्पिन गेंदबाजी भी विदेशों में काफी अच्‍छी रही है। हमें केवल बल्‍लेबाजी में थोड़ा फोकस करने की जरूरत है।