×

कोरोना काल के बाद खिलाड़ियों की मानसिक मजबूती अधिक मायने रखेगी: मुश्ताक अहमद

पाकिस्तानी टीम के 25 जून के आसपास इंग्लैंड पहुंचने की संभावना है जहां उसे जैव सुरक्षित वातावरण में टेस्ट और टी20 मैचों श्रृंखलाएं खेलनी है

Mushtaq Ahmed @IANS

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के स्पिन सलाहकार और मेंटर मुश्ताक अहमद का कहना है कि कोविड-19 महामारी के चलते जब शीर्ष स्तर पर क्रिकेट की बहाली होगी तो कौशल की तुलना में खिलाड़ियों की मानसिक मजबूती अधिक मायने रखेगी।

मुश्ताक को हाल में पाकिस्तान का स्पिन सलाहकार नियुक्त किया गया। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच 8 जुलाई से शुरू होने वाली टेस्ट श्रृंखला से काफी कुछ सीख मिलेगी।

द्रविड़ बोले- वॉर्नर और स्मिथ की मौजूदगी से टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया में करना होगा मुश्किलों का सामना

उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि हमें वेस्टइंडीज और इंग्लैंड की श्रृंखला से कोविड-19 की परिस्थितियों के बारे में काफी कुछ सीख मिलेगी। कौशल की तुलना में खिलाड़ी की मानसिक मजबूती अधिक मायने रखेगी। ऐसी विषम परिस्थितियों में मेंटर की भूमिका अधिक महत्वपूर्ण बन गयी है।’

पाकिस्तानी टीम के 25 जून के आसपास इंग्लैंड पहुंचने की संभावना है जहां उसे जैव सुरक्षित वातावरण में टेस्ट और टी20 मैचों श्रृंखलाएं खेलनी है। टीम को इंग्लैंड पहुंचने पर 14 दिन के पृथकवास पर रहना होगा तथा उन्हें अलग थलग रहकर अभ्यास करना होगा।

महिला क्रिकेट को लोकप्रिय बनाने के लिए जेमिमा रोड्रिग्स और सोफी डेवाइन ने दिए सुझाव

मुश्ताक ने कहा, ‘खिलाड़ियों और कोचों को खेल की नई परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने में थोड़ा समय लगेगा। हमें खाली स्टेडियमों में खेलना होगा। मुझे लगता है कि इस श्रृंखला से पहले इंग्लैंड में हमें जो समय मिलेगा उसमें खिलाड़ियों को इन चुनौतियों के लिए मानसिक तौर पर तैयार करना होगा।’

trending this week