my captain is using abusive language to me: Deepak Hooda withdrew from Syed Mushtaq Ali Trophy after spat with Krunal Pandya
दीपक हुड्डा (AFP)

बड़ौदा क्रिकेट टीम के कप्तान क्रुणाल पांड्या के साथ विवाद के बाद उप कप्तान दीपक हुड्डा ने आगामी सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया है। हुड्डा ने बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन को खत लिखकर अपने फैसले की सूचना दी। इस पत्र में उन्होंने ये भी बताया कि पांड्या ने शनिवार को रिलायंस स्टेडियम में अभ्यास के दौरान उन्हें अपशब्द कहे थे।

हुड्डा ने अपने पत्र में लिखा, “मैं पिछले 11 सालों से बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन के लिए क्रिकेट खेल रहा हूं। फिलहाल, मुझे सैयद मुश्ताल अली ट्रॉफी के लिए चुना गया है। मैं निराश, उदास और दबाव में हूं। पिछले कुछ दिनों से मेरी टीम के कप्तान क्रुणाल पांड्या साथी खिलाड़ियों और वडोदरा के रिलांयस स्टेडियम में अभ्यास करने आई विपक्षी टीमों के सामने मुझे अपशब्द कह रहे हैं”

खबरों के मुताबिक शनिवार को आयोजित हुए टीम के अभ्यास सेशन के दौरान क्रुणाल और दीपक के बीच झड़प हुई थी, जहां कप्तान ने उन्हें उपशब्द कहे थे। इस बारे में हुड्डा ने लिखा, “आज मैं नेट्स में अभ्यास कर रहा था और कोच प्रभाकर की अनुमति से कल होने वाले मैच की तैयारी कर रहा था। फिर क्रुणाल नेट में आया और मेरे साथ बदसलूकी करने लगा। मैं उससे कहा कि मैं कोच के इजाजत लेकर अभ्यास कर रहा हूं। उसने कहा ‘मैं कप्तान हूं, कोच कौन है? मैं बड़ौदा टीम हूं’ फिर उसने दादागिरी दिखाकर मेरा अभ्यास रोक दिया।”

IPL 2021 से ब्रेक लेने के बाद PSL के ‘प्लेयर्स ड्राफ्ट’में शामिल हुए स्टेन

उन्होंने आगे लिखा, “मैंने कई महान अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों और कप्तानों के साथ क्रिकेट खेला है लेकिन किसी कप्तान द्वारा इस तरह के बुरे व्यवहार का सामना नहीं किया। मैं टीम का खिलाड़ी हूं और टीम को हमेशा खुद से आगे रखा है…..इन मौजूदा घटनाओं को देखते हुए, मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने और खेलने में असमर्थ हूं, जहां हर बार हमारी बड़ौदा टीम के कप्तान ने मेरा मजाक उड़ाया और मेरी तैयारी में खलल डाला।”