Nasir Jamshed banned for 10 years by PCB for spot-fixing in PSL 2016-17
Nasir Jamshed © Getty Images

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में कड़ा कदम उठाते हुए सलामी बल्लेबाज नासिर जमशेद पर दस साल का बैन लगा दिया है। बोर्ड की भ्रष्टाचार विरोधी युनिट ने पाकिस्तान सुपर लीग के 2016-17 सीजन के दौरान जमशेद को फिक्सिंग का दोषी पाया है। इस तीन सदस्यीय समिति ने फैसला किया है कि जमशेद को दस साल के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से बैन करने के साथ उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट मैनेजमेंट में किसी भी पद पर काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

पीसीबी के वकील तफज़ुल रिज़वी ने अपने बयान में कहा, “कुछ केस ऐसे होते हैं, जिन्हें जीतने के बाद भी आपको खुशी नहीं होती है। ये ऐसा ही केस था क्योंकि एक खिलाड़ी ने स्पॉट फिक्सिंग और उसकी रिपोर्ट बोर्ड को ना करने की वजह से अपना करियर बर्बाद कर लिया।” पिछले साल फरवरी में पीएसएल के दूसरे सीजन में भ्रष्टाचार के लिए राष्ट्रीय अपराध एजेंसी द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद जमशेद फिलहाल ब्रिटेन में जमानत पर हैं। दिसंबर 2017 में भ्रष्टाचार विरोधी ट्रिब्यूनल के बाद जमशेद को बोर्ड द्वारा एक साल के लिए बैन कर दिया गया था, उन्होंने पाया कि वो स्पॉट फिक्सिंग मामले के संबंध में “असहयोग” के दोषी थे। बैन का मतलब था कि जमशेद 13 फरवरी, 2018 तक क्रिकेट नहीं खेल सके थे।