Navdeep Saini: Coulun’t belive myself when I got the Indian team cap
नवदीप सैनी (BCCI/Instagram)

तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने भारत के लिए शानदार पदार्पण के बाद कहा कि वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में जब उन्हें भारतीय टीम कैप दी गयी तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ था।

शनिवार को 17 रन देकर तीन विकेट के शानदार प्रदर्शन के बाद 26 साल के सैनी भारत की चार विकेट की जीत में स्टार रहे। उन्हें इसके लिए प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया जिससे भारत ने वेस्टइंडीज को नौ विकेट पर 95 रन ही बनाने दिए। भारत ने इसके बाद 2.4 ओवर रहते चार विकेट से जीत हासिल की।

बीसीसीआई के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किए गए इंटरव्यू में सैनी ने अपने सीनियर तेज गेंदबाज साथी भुवनेश्वर कुमार को कहा, ‘‘जब मुझे शनिवार की सुबह को भारत की कैप दी गई तो मुझे विश्वास ही नहीं हुआ कि आज वही दिन है जिसका मैं इंतजार कर रहा था।”

नवदीप सैनी के शानदार डेब्यू के बाद गंभीर ने बेदी-चौहान पर तंज कसा

हरियाणा में जन्में सैनी घरेलू सर्किट में दिल्ली के लिए खेलते हैं, सैनी ने कहा, ‘‘शुरू में मेरा आत्मविश्वास थोड़ा कम था क्योंकि मुझ पर डेब्यू करने का दबाव बना हुआ था। पहले विकेट ने इस दबाव को खत्म किया। इसके बाद जब मैंने दूसरा विकेट लिया तो मेरा आत्मविश्वास थोड़ा बढ़ा और मुझे लगा कि मैं सामान्य मैच खेल रहा था।’’

सैनी ने अपने तीन में से दो विकेट वेस्टइंडीज पारी के पांचवें ओवर की दो गेंद में -निकोलस पूरन और शिमरोन हेटमायर के रूप- हासिल किए लेकिन वो हैट्रिक नहीं ले सके। ये पूछने पर कि हैट्रिक गेंद फेंकते समय उनके दिमाग में क्या चल रहा था तो उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं हैट्रिक गेंद फेंक रहा था तो मुझे लगता कि ये मैं सिर्फ दूसरो को करते हुए देखता था और अब यह मेरे साथ हो रही है। फिर मैं ध्यान लगा रहा था कि विकेट कैसे लिया जाए।’’

अपना नाम बनाने की काबिलियत रखते हैं नवदीप सैनी: विराट कोहली

सैनी का तीसरा विकेट कीरोन पोलार्ड (एलबीडब्ल्यू) का था जो वेस्टइंडीज पारी के अंतिम ओवर में हुआ था। विकेटकीपर रिषभ पंत के जोर देने के बाद ही इसकी समीक्षा की गई क्योंकि अंपायर ने इसे ‘नॉट आउट’ कहा था।

इसके बारे में पूछने पर सैनी ने कहा, ‘‘मुझे लगा कि ये ‘नॉट आउट’ था और अपील करने के बाद अंपायर ने भी इसे नाट आउट कहा था। लेकिन विराट पाजी ने इसका रिव्यू लिया और उन्होंने कहा कि हमारे लिए एक रिव्यू बचा है तो इसे बर्बाद क्यों किया जाये, आपको नहीं पता कि ये आउट भी हो सकता है।’’

भारत की जीत में चमके नवदीप सैनी, सीरीज पर 1-0 से बढ़त

उन्होंने कहा, ‘‘मैं निश्चित नहीं था कि मुझे ये विकेट मिलेगा या नहीं। लेकिन मैं खुश था जब पोलार्ड को रिव्यू के बाद आउट करार कर दिया गया।’’

हाथ पर भेड़िये को दर्शाने वाले टैटू के बारे में पूछने पर सैनी ने कहा, ‘‘बचपन में मैं और मेरा बड़ा भाई भेड़ियों की काफी फिल्में देखते थे। इसलिये मुझे भेड़िये पसंद हैं। साथ ही भेड़िये सर्कस में प्रदर्शन नहीं करते और ये सोचकर ही मैंने यह टैटू बनवाया था।’’