नए कोच ब्रैंडन मैक्कुलम के सामने इंग्लैंड की टेस्ट टीम को जीत की पटरी पर लाने की चुनौती
ब्रैंडन मैक्कुलम (IANS)

इंग्लैंड टेस्ट टीम के मुख्य कोच नियुक्त किए गए ब्रैंडन मैक्कुलम (Brendon McCullum) के सामने सबसे बड़ी चुनौती टीम की किस्मत को बदलना है, जिसने अपने पिछले 17 टेस्ट मैचों में से सिर्फ एक में जीत हासिल की है.

इंग्लैंड 2 जून को न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के रणनीतिक सलाहकार एंड्रयू स्ट्रॉस ने मैकुलम और नए कप्तान स्टोक्स के बीच तालमेल की जरूरत पर जोर दिया.

ईसीबी के रणनीतिक सलाहकार एंड्रयू स्ट्रॉस ने आईसीसी के हवाले से कहा, “सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि मैकुलम और बेन स्टोक्स के बीच तालमेल कैसे बैठेगा. टीम के लिए उनके बीच के संबंध जरूरी रहेंगे.”

इसके साथ यह तथ्य जोड़ा जाएगा कि न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान मैकुलम भी अपने ब्लूप्रिंट को लागू करना चाहेंगे, जो टीम के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है.

मैकुलम ने अपने कप्तानी कार्यकाल के दौरान कहा था कि, “जब हमारे पास अच्छी मानसिकता और सबके प्रति सकारात्मक रवैया है तो हम सामने वाले के प्रति आक्रामकता दिखा सकते हैं. हम एक टीम के रूप में क्रीज पर उतरते हैं, तो हमे विपक्षी टीम को हराने के बारे में सोचना होगा.”

चयन के अलावा मैकुलम को ये भी तय करना होगा कि बल्लेबाजी क्रम में कौन किस नंबर पर उतरता है. स्टोक्स छह और जो रूट चार नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे, लेकिन इंग्लैंड के शेष शीर्ष सात खिलाड़ियों का बल्लेबाजी क्रम अभी स्पष्ट नहीं है.

इंग्लैंड को सीरीज के लिए शीर्ष तीन को चुनना महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि जॉनी बेयरस्टो बेन फॉक्स के स्थान पर विकेटकीपर का दायित्व संभालेंगे.