वनडे सीरीज जीतने के लिए पूरा जोर लगा देगी न्यूजीलैंड टीम। © AFP
वनडे सीरीज जीतने के लिए पूरा जोर लगा देगी न्यूजीलैंड टीम। © AFP

भारत बनाम न्यूजीलैंड सीरीज का आखिरी मैच आज विशाखापत्तनम में खेला जाने वाला है। आज के मैच में दोनो टीमों के पास मौका रहेगा सीरीज अपने नाम करने का। रांची वनडे में जीत हासिल करने के बाद कीवी टीम के हौसले बढ़े हैं उनका मानना है कि इस सीरीज को जीत कर वह ऐसा कारनामा कर सकते हैं जो आज तक कीवी टीम नहीं कर पाई। न्यूजीलैंड टीम आज तक भारत के खिलाफ भारत में कोई वनडे सीरीज नहीं जीती है, केन विलियमसन के पास अब इस रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका है। जिससे बाद वह पहले ऐसे कप्तान बन जाएंगे जिसने भारत के खिलाफ भारत में ही कोई वनडे सीरीज जीती हो। भारत बनाम न्यूजीलैंड, पांचवा वनडे, प्रिव्यू पढ़ने के लिए क्लिक करें

न्यूजीलैंड 1988 के बाद से लगातार भारत में वनडे सीरीज हार रही है। 1988 में दिलीप वेंगसरकर ने जॉन रॉइट के नेतृत्व वाली कीवी टीम को चार मैचों की वनडे सीरीज में 4-0 से हराया था। इसके बाद भारतीय कप्तान मोहम्मद अजरूद्दीन ने 1995 में कीवी टीम को 3-2 से वनडे सीरीज में मात दी थी। सचिन तेंदुलकर ने भी अपनी कप्तानी के दौर में न्यूजीलैंड को 1999 में वनडे सीरीज हराई थी। धोनी की गैरमौजूदगी में कप्तान बनें गौतम गंभीर ने भी कीवी टीम को वनडे सीरीज में धूल चटाई है। 2010 में रॉस टेसर की कप्तानी में कीवी टीम भारत में पांच मैचों की वनडे सीरीज खेलने आई थी। जहां गंभीर की सेना ने उन्हें 5-0 से हराया था। इस सीरीज में गंभीर और विराट कोहली ने कई यादगार पारियां खेली। इस हार के बाद अब पहली बार न्यूजीलैंड की टीम इस मुकाम तक पहुंच सकी हैं जहां जीत उनसे केवल एक कदम दूर है। जानें कौन होंगे भारत बनाम न्यूजीलैंड आखिरी वनडे में भारत के संभावित 11 खिलाड़ी

मीडिया से बात करते हुए कीवी गेंदबाज टिम साउदी ने कहा “मेरा मानना है कि सभी साथी खिलाड़ी काफी उत्साहित है, हम वह करने जा रहे हैं जो आज तक किसी कीवी टीम ने नहीं किया। भारत में वनडे सीरीज जीतने को लेकर सभी का उत्साह बढ़ा हुआ है। सब मैच का इंतजार कर रहे हैं। ये दौरा कुछ खिलाड़ियों के लिए काफी लंबा रहा, अच्छा रहेगा अगर हम इसे सकारात्मकता के साथ खत्म करें।” कोहली के बारें में बात करते हुए साउदी ने कहा “रन चेज करते समय कोहली खतरनाक बल्लेबाज है, उसका विकेट काफी जरूरी होता है। धोनी के साथ उसके रिकॉर्ड अविश्वसनीय है। हमें केवल कोहली का विकेट लेकर बैठना नहीं है लगातार विकेट लेते रहने से ही हम जीत पा सकेंगे।