New Zealand vs Australia: Ashton Agar’s 6-wicket haul helps Australia beat New Zealand by 64 runs; Aaron Finch, Glenn Maxwell hits half century
(Twitter

कप्तान एरोन फिंच और स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल की अर्धशतकीय पारियों के बाद स्पिनर एश्टन एगर के छह विकेट की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे टी20 मैच में न्यूजीलैंड को 64 रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज जीतने की उम्मीद बरकरार रखी है। हालांकि मेजबान टीम अब भी 2-1 से आगे है।

मैक्सवेल ने 31 गेंद में आठ चौकों और पांच छक्कों की मदद से 70 रन की पारी खेली जबकि फिंच ने 44 गेंद का सामना करते हुए आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 69 रन जोड़े जिससे आस्ट्रेलिया ने चार विकेट पर 208 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया। जोश फिलिप ने भी 43 रन का योगदान दिया। मैक्सवेल ने सिर्फ 25 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और अपनी पारी के दौरान जिमी नीशम के एक ओवर में दो छक्कों और चार चौकों की मदद से 28 रन जुटाए।

इसके जवाब में एगर (30 रन पर छह विकेट) और अंतरराष्ट्रीय पदार्पण कर रहे रिली मेरेडिथ (24 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने न्यूजीलैंड की टीम 17.1 ओवर में 144 रन पर ढेर हो गई। मेरेडिथ ने टिम सीफर्ट (04) और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (09) को जल्द पवेलियन भेजा जिसके बाद एगर ने लगातार छह विकेट चटकाए।

ICC T20I rankings: केएल राहुल दूसरे नंबर पर बरकरार, विराट कोहली को हुआ फायदा

एगर ने डेवोन कॉनवे (38) को आउट करने के बाद ग्लेन फिलिप्स (13), नीशाम (00) और टिम साउथी (05) को पांच गेंद के भीतर पवेलियन भेजा। बायें हाथ के इस स्पिनर ने मार्क चैपमैन (18) और काइल जेमीसन (11) को भी आउट करके टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दूसरी पारी पारी में पांच या इससे अधिक विकेट चटकाए।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के कप्तान फिंच ने पहले दो मैचों की असफलता को पीछे छोड़ते हुए अर्धशतक जड़ा। पहले दो मैचों में 12 और 01 रन की पारियां खेलने वाले फिंच ने फिलिप के साथ 83 और मैक्सवेल के साथ 64 रन की साझेदारी करके आस्ट्रेलिया को बड़े स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज वापसी कर पछता रहे हैं डेविड वार्नर

फिंच ने लेग स्पिनर ईश सोढी की फ्री हिट पर छक्के के साथ 34 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने फिलिप के साथ मिलकर 10वें ओवर तक टीम का स्कोर 89 रन तक पहुंचाया।

फिलिप के आउट होने के बाद उतरे मैक्सवेल ने शुरू से ही तूफानी तेवर दिखाए। मैक्सवेल ने पहली सात गेंद में तीन सिंगल लिए लेकिन इसके बाद ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। उन्होंने नीशाम के पारी के 17वें ओवर में 28 रन बटोरे जिससे वह 30 से 58 रन पर पहुंच गए। मैक्सवेल 18वें ओवर की अंतिम गेंद पर आउट हुए जिसके बाद टीम अंतिम दो ओवर में सिर्फ 14 रन ही बना सकी।