इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच बे ओवल स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच के दौरान ऑलराउंडर खिलाड़ी जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) पर हुई नस्लीय टिप्पणी के बाद ब्लैककैप्स क्रिकेट ने दूसरे मैच की सुरक्षा बढ़ाने का फैसला किया है।

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) ने इस घटना को कीवी लोगों के मूल्यों के खिलाफ बताया है और आर्चर से माफी मांगने की बात कही है। विलियमसन ने कहा, ‘‘हम नस्लवाद के बिल्कुल खिलाफ है । इस तरह की घटना फिर नहीं होनी चाहिए।’’

न्यूजीलैंड क्रिकेट ने कहा कि दोषियों को पुलिस के हवाले किया जाएगा और सीसीटीवी फुटेज में पकड़े जाने पर भविष्य में किसी भी मैदान पर उसके प्रवेश पर रोक लगा दी जाएगी। न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी डेविड व्हाइट ने कहा, ‘‘हम बहुत निराश हैं। ये अस्वीकार्य है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।’’

केन विलियमसन ने कहा- कीवी दर्शकों की तरफ से मैं जोफ्रा आर्चर से माफी मांगना चाहता हूं

न्यूजीलैंड क्रिकेट ने आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि वो मंगलवार को आर्चर से माफी मांगेगा। वहीं कीवी कोच गैरी स्टीड (Gary Stead) ने कहा कि उनके कुछ गेंदबाज भी आर्चर से बात करेंग। उन्होंने कहा, ‘‘भीड़ में से किसी एक मूर्ख ने टिप्पणी की है। उम्मीद है कि उसे सजा मिलेगी।’’

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने कहा कि मामले की मांच में वो न्यूजीलैंड क्रिकेट की मदद कर रहे हैं। बारबाडोस में जन्मे आर्चर ने सोमवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी। आर्चर ने ट्वीट किया, ‘‘अपनी टीम को बचाने के लिए संघर्ष करते समय नस्लीय टिप्पणी सुनकर काफी परेशान हुआ।’’